fbpx
चंदौलीप्रशासन एवं पुलिसराज्य/जिला

बर्ड फ्लू को लेकर चंदौली डीएम का कड़ा फरमान, पोल्ट्री संचालक रहें सावधान,कंट्रोल रूम भी बना

चंदौली। डीएम संजीव सिंह ने अधिकारियों को दो टूक हिदायत दी है कि बर्ड फ्लू का मामला सामने आया तो संबंधित इलाके के एक किलोमीटर के दायरे में आने वाले सभी पोल्ट्री फार्मों के मुर्गी-मुर्गियों को मारकर दफना दिया जाए। सरकार संचालकों के नुकसान की भरपाई करेगी। जिलाधिकारी संजीव सिंह ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित निगरानी समिति की बैठक में विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए। पक्षियों की मौत की सूचना तत्काल मुख्यालय को उपलब्ध कराने को कहा।
कहा, जिले में स्थित सभी छोटे-बड़े 45 पोल्ट्री फार्म पर नजर रखी जाए। किसी भी पक्षी में बर्ड फ्लू के लक्षण दिखे तो टास्क फोर्स तत्काल सूचित करे। किसी इलाके में बर्ड फ्लू से पक्षियों की मौत होती है तो एक किलोमीटर के दायरे में आने वाले सभी पोल्ट्री फार्म के मुर्गे-मुर्गियों को मारकर जमीन में गड़वा दिया जाए। लोक निर्माण विभाग गड्ढा खोदवाने के लिए जेसीबी व मजदूरों की व्यवस्था करेगा। पोल्ट्री फार्म में जांच के लिए जाएं तो मास्क जरूर लगाएं। वहीं अलग कपड़ा और जूता -चप्पल पहन कर ही जाएं। वन विभाग बाहर से उड़कर आने वाले आप्रवासी पक्षियों पर निगरानी रखे। यदि कहीं अचानक अधिक संख्या में पक्षियों की मौत हो तो मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को सूचित करें। गैर जनपद से पक्षियों को जिले में लाना पूरी तरह से प्रतिबंधित हो चुका है। ऐसे में जिले की सीमा पर पक्षियों के वाहनों पर नजर रखी जाए। यदि किसी इलाके में बर्ड फ्लू का मामला सामने आता है तो संबंधित क्षेत्र में मांस की बिक्री पर रोक लगा दी जाएगी। थाना व चैकी पुलिस को इसको लेकर अलर्ट कर दिया जाए। मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. एसपी पांडेय ने बताया कि वर्ड फ्लू आर्थो मिक्सो वायरस से फैलता है। इससे पक्षियों को सांस लेने में तकलीफ होती है। मुर्गियों से वायरस का संक्रमण मनुष्यों में फैलता है। सीडीओ अजितेंद्र नारायण, सीएमओ डा. आरके मिश्रा, एडीएम अतुल कुमार, पीडी सुशील कुमार समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

कुक्कुट पालक व कर्मी होंगे आइसोलेट
जिस पोल्ट्री फार्म में बर्ड फ्लू के चलते पक्षियों की मौत होगी, उसके मालिक व काम करने वाले मजदूरों को आइसोलेशन में रखा जाएगा। स्वास्थ्य विभाग की टीम उन्हें अलग रखकर 10 दिनों तक उनके स्वास्थ्य की जांच करेगी। डीएम ने कहा, मालिक व कर्मियों को आइसोलेशन में रखने से दूसरे लोगों में संक्रमण का खतरा नहीं रहेगा। जिला प्रशासन ने बर्ड फ्लू की निगरानी के लिए कंट्रोल रूम बनाया है। जिले में कहीं भी पक्षियों की मौत होने पर कंट्रोल रूम के नंबर 9792961830 पर फोनकर सूचित करें।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button