fbpx
मिर्ज़ापुरराजनीतिराज्य/जिला

सांसद अनुप्रिया ने डीएम से पूछा किसके दबाव में काटी गई बिजली ?

मीरजापुर। अपना दल एस की राष्ट्रीय अध्यक्ष और मीरजापुर सांसद अनुप्रिया पटेल जिला प्रशासन के खिलाफ हमलावर मुद्रा में हैं। लगातार आरोप लगा रही हैं कि प्रशासन उन्हें नजरअंदाज कर रहा है। एक के बाद एक तीन पत्र लिखकर जिलाधिकारी पर गंभीर आरोप मढ़ चुकी हैं। इसबीच बुधवार को उन्होंने जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल को चाौथी चिट्ठी भेजी। आरोप लगाया कि पत्र भेजकर शिलान्यास प्रकरण का जवाब मांगने के बाद केंद्रीय विद्यालय की बिजली काट दी गई। जबकि उनके प्रयास से डेढ़ वर्ष पहले जनपद के राजकीय इंटर कालेज में अस्थाई तौर पर केंद्रीय विद्यालय का शुभारंभ हुआ था। अब तक विद्यालय को राजकीय इंटर कालेज से ही मुफ्त बिजली उपलब्ध कराई जा रही थी। जबकि डीएम खुद इस विद्यालय के समिति अध्यक्ष हैं। विद्यालय की प्रधानाचार्य ने सांसद को पत्र लिखकर विद्यालय की बिजली बहाल कराने की गुहार लगाई है। यह भी लिखा है कि विभाग बिजली का बिल जमा करने को कह रहा है।

यह भी पढ़ेंः सांसद अनुप्रिया पटेल ने डीएम को लिखी तीसरी चिट्ठी, पूछा आधी रात को ऐसा क्यों ?

जिलाधिकारी से पूछे दो तीखे सवाल

सांसद ने पत्र में लिखा है कि केंद्रीय विद्यालय में गरीब बच्चे शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। बिजली कनेक्शन काटे जाने से इन बच्चों के सुनहरे भविष्य पर सवाल खड़ा हो गया है।

  • 2019 से अब तक विद्यालय को मुफ्त बिजली उपलब्ध कराई जा रही थी। शिलान्यास प्रकरण में जवाब मांगे जाने के बाद ही तत्काल कनेक्शन क्यों काट दिया गया। – किसके दबाव में केंद्रीय विद्यालय का विद्युत कनेक्शन काटा गया।
    यह भी लिखा है कि अधोहस्ताक्षरी के साथ आपसे चल रहे अन्य प्रकारणों से केंद्रीय विद्यालय के बिजली कनेक्शन को जोड़ने का कष्ट न करें।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button