fbpx
चंदौलीप्रशासन एवं पुलिस

चंदौली : धान की रोपाई के दौरान नहीं होनी चाहिए पानी की कमी, डीएम बोले, पूरी क्षमता के साथ नहरों का हो संचालन

चंदौली। जिलाधिकारी संजीव सिंह ने सोमवार को नवही हेड, कटसिला हेड व सिधना हेड का निरीक्षण किया। इस दौरान नहरों के संचालन के बारे में जानकारी ली। वहीं सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि धान की रोपाई के समय नहरों का संचालन सही ढंग से किया जाए। इसमें किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। यदि सिंचाई के किल्लत की शिकायत मिली तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई तय है।

 

जिले में धान की रोपाई चल रही है। कई लोगों ने जनता दर्शन में डीएम से सिंचाई की किल्लत की शिकायत की। वहीं फोन पर भी लोगों ने समस्या बताई। इसको गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी सोमवार को सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता के साथ निरीक्षण करने नरायनपुर पंप कैनाल पहुंचे। उन्होंने कहा कि सभी पंपों को पूरी क्षमता के साथ चलाएं। ताकि रोपाई के समय पानी की किल्लत न होने पाए। सहायक अभियंता मूसा खाड़ को निर्देशित कि हर दो-दो घंटे पर कितनी क्यूसेक पानी नहरों में चल रहा है, रजिस्टर में अंकित किया जाए। साथ ही फोटो खींचकर उपलब्ध कराते रहें। हेड से टेल तक बेलदारों की ड्यूटी लगाई जाए। उन्होंने राजस्व विभाग की टीम गठित कर क्रास चेकिंग कराने का निर्देश दिया। कहा कि सिंचाई विभाग के अभियंता नियमित निगरानी करें। कटसिला हेड पर नहर अप 1.05 मीटर गेज की क्षमता से एवं डाउन 1.70 मीटर क्षमता से चल रही थी। अधिशासी अभियंता एवं अधीनस्थ अभियंताओं को निर्देशित किया कि अवर अभियंताओं एवं बेलदारों के जरिए नहरों की निगरानी कराते रहें। नहरों की माइनरों एवं टेलों तक भरपूर पानी की उपलब्धता सुनिश्चित हो। विद्युत अभियंता को पर्याप्त आपूर्ति के निर्देश दिए। कहा कि धान की रोपाई के दौरान किसानों को किसी तरह की समस्या नहीं होनी चाहिए। इसलिए पर्याप्त बिजली मिलती रहे।

Related Articles

Back to top button