fbpx
ख़बरेंराज्य/जिलावाराणसी

वाराणसी में फिल्म सिटी की मांग ने पकड़ा जोर, सीएम को चिट्ठी

वाराणसी । प्रदेश की योगी सरकार नोएडा में फिल्म सिटी बनाने की तैयारी कर रही है। जबकि एक वर्ग फिल्म सिटी को वाराणसी में देखना चाहता है। नोएडा प्रस्तावित फिल्म सिटी का निर्माण नोएडा न होकर वाराणसी में हो इसके लिये बीएचयू के पूर्व छात्रनेता यतीन्द्र पति पांडेय ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है।
छात्र नेता ने सीएम को भेजी चिट्ठी में लिखा है कि उत्तर प्रदेश में देश की सबसे बड़ी फिल्म सिटी का निर्माण आप का सराहनीय कदम है। लेकिन नोएडा में बनाने का फैसला उचित नहीं है। उत्तर प्रदेश की पूर्ववत सरकारों ने भी अपने विकास का केंद्र पश्चिमी यूपी को ही रखा। नोएडा में पहले से ही आईटी हब व अन्य मल्टीनेशनल कम्पनियां मौजूद हैं। पूर्वांचल के साथ सदियों से सौतेला व्यवहार किया जाता रहा है। आप के मुख्यमंत्री बनने के बाद हम पूर्वांचलियों में ये उत्साह जगा की अब विकास के केंद्र में पूर्वांचल का क्षेत्र प्रमुख रहेगा। वाराणसी देश की धार्मिक राजधानी है अगर फिल्म सिटी का निर्माण यहां होता है तो पूरा पूर्वांचल रोजगार से जुड़ जाएगा। रोजगार के साथ – साथ राजस्व में भी बढ़ोतरी होगी और टूरिज्म भी बढ़ेगा। वाराणसी में अनवरत फिल्म या सीरियल की शूटिंग हमेशा होती रहती है। गंगा घाट हों या मंदिर हमेशा किसी न किसी स्थान पर फिल्म या टेलीविजन के कलाकार दिख जाते हैं। वाराणसी में फिल्मो के निर्माण से फिल्म इंडस्ट्री के ऊपर भी दबाव बना रहेगा। जिससे अधिक से अधिक फिल्में देश की सांस्कृतिक विरासत को बढ़ावा देने वाली होंगी। फिल्मो में अनैतिक व अश्लील दृश्यों पर लगाम लगाई जा सकेगी। बॉलीवुड के इस्लामीकरण को भी रोका जा सकेगा। सारनाथ के बौद्ध स्तूप विदेशी आकर्षण का केंद्र हैं जिससे हॉलीवुड व अन्य विदेशी फिल्म इंडस्ट्री का भी ध्यान वाराणसी फिल्म सिटी पर होगा। अभी नोएडा में सिर्फ भूमि का निर्धारण हुआ है अधिग्रहण नहीं हुआ है। इसलिए आप से पूर्वांचल के युवाओं की तरफ से निवेदन करता हूँ की नोएडा में फिल्म सिटी बनाने के फैसले को बदला जाए और वाराणसी में फिल्म सिटी बनाने पर विचार करें।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button