fbpx
ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

अंधेरे में गुम हो गए नगर पालिका परिषद पीपीडीयू नगर के विकास के दावे

चंदौली। समस्या छोटी है लेकिन विकास के बड़े-बड़े दावे करने वालों को आईना दिखाने के लिए काफी है। शहर को रोशन करने को लाखों रुपये खर्च कर लगाए गए हाईमास्ट हाथी दांत बनकर रह गए हैं। इसे ठीक कराने की जहमत उठाने वाला कोई नहीं। शहर के सबसे व्यस्ततम स्थान पर स्टेशन वीआईपी गेट के पास लगा हाईमास्ट कई दिनों से नहीं जल रहा। शहर की रौनक फींकी नजर आ रही है। पुलिसवालों का कहना है कि रात्रि गश्त में उन्हें भी दिक्कत आती है। लेकिन समस्या की तरफ किसी का ध्यान नहीं जा रहा। वहीं चकिया तिराहा पर लगे हाईमास्ट की तो बात ही मत करिए छह माह में खराब पड़ा है।

सरकार का पैसा लगा है तो ध्यान देने वाला कोई नहीें है। लाखों रुपये खर्च कर इस उद्देश्य से हाईमास्ट लगवाए गए ताकि लोगों को सहूलियत मिले और शहर की खूबसूरती में चार चांद लग सके। लेकिन वीआईपी गेट के पास लगा हाईमास्ट कई दिनों से खराब पड़ा है। जबकि चकिया तिराहे पर लगा हाईमास्ट को रोशन हुए छह माह से भी अधिक समय बीत चुका है।

क्या कहते हैं नगर पालिका अध्यक्ष

नगर पालिका परिषद अध्यक्ष संतोष खरवार का कहना है कि समस्या संज्ञान में है। दो दिन में समाधान हो जाएगा। पिछले दिनों पड़ाव पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कार्यक्रम में कार्य करते समय पालिका का हाईड्रोलिक दुर्घटनाग्रस्त हो गया। अब जाकर बन पाया है। दोनों हाईमास्ट ठीक करा दिए जाएंगे।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!