fbpx
चंदौलीराजनीतिराज्य/जिला

धूमधाम से मनाई गई सुहेलदेव जयंती, जानिए क्या बोले चकिया विधायक

चंदौली।  महाराजा सुहेलदेव जयन्ती समारोह मंगलवार को विकास खण्ड चकिया परिसर में आयोजित किया गया। क्षेत्रीय विधायक शारदा प्रसाद ने तैल चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उपस्थितजनों ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्मारक पर पुष्प अर्पित कर कार्यक्रम को गति दी। इस दौरान स्वतन्त्रता संग्राम सेनानियों के परिजनों को सम्मानित किया गया।


चकिया विधायक ने कहा कि महाराजा सुहेलदेव का जन्म बसन्त पंचमी के दिन 990 में हुआ और इनका शासनकाल 1027 ई से 1077 ई तक माना जाता है। महमूद गजनवी का भतीजा सालार मसूद जो कि अपने चाचा की तरह भारत विजय कर गाजी बनना चाहता था उसने दिल्ली पर आक्रमण करके जीत लिया। जिसके बाद मेरठ, बदायूं, बुलन्दशहर, और कन्नौज के राजाओं ने मसूद से संधि कर ली। किन्तु जब राम की भूमि अयोध्या और काशी की तरफ उसके कदम बढ़े तो बीच मे बहराईच में उसका सामना महाराजा सुहेलदेव से हुआ। 8 जून 1034 को महाराजा सुहेलदेव जी की सेना ने मसूद को पराजित किया जिसमें मसूद मारा गया। इस अवसर पर सुरेंद्र सिंह प्रदेश कार्यसमिति सदस्य भाजपा, जिलाधिकारी संजीव सिंह, एसपी अमित कुमार, ब्लॉक प्रमुख चकिया शिवेंद्र प्रताप सिंह , बीडीओ सरिता सिंह, अश्विनी दुबे आदि उपस्थित रहे।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button