fbpx
चंदौलीराजनीतिराज्य/जिला

महाराजा सुहेलदेव के जरिए राजभर समाज को साधने की कोशिश में भाजपा व सपा

चंदौली। भाजपा ने महाराजा सुहेलदेव जयंती को ऐतिहासिक बना दिया। बहराइच में महाराजा सुहेलदेव स्मारक स्थल की आधारशिला रखी गई। प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ खुद मौके पर मौजूद थे जबकि पीएम नरेंद्र मोदी नई दिल्ली से और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल लखनऊ से वर्चुअल माध्यम से जुडे़। वहीं चंदौली सहित प्रदेश के सभी जनपदों में समाजवादी पार्टी कार्यालय में सुहेलदेव की जयंती मनाई गई। दरअसल दोनों दल महाराजा सुहेलदेव के जरिए राजभर और पासी समाज को साधने में जुटे हैं।
दरअसल महाराजा सुहेलदेव को उत्तर प्रदेश का पासी समाज भी अपना पूर्वज मानता है जबकि राजभर समाज भी उन पर अपना दावा करता है। पूर्वांचल में राजभर समाज की बड़ी आबादी है और राजनीतिक दल उन्हें लुभाने की कोशिश करते रहते हैं। खुद को राजभर समाज का नेता कहने वाले ओमप्रकाश राजभर ने सुहेलदेव के नाम पर सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी बनाई और 2002 से लगातार विधानसभा और लोकसभा चुनावों में ताल ठोंकते रहते हैं। प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद ओमप्रकाश राजभर को कैबिनेट मंत्री भी बनाया गया था। बाद में आपसी हितों के टकराव के चलते ओमप्रकाश राजभर भाजपा से अलग हो गए। ओमप्रकाश राजभर को कमजार करने और राजभर व पासी समाज को अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए ही भाजपा और सपा जैसे दल महाराजा सुहेलदेव जयंती मनाने से नहीं चूक रहे।

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!