fbpx
क्राइमभदोहीराज्य/जिला

फर्जी अभिलेखों से पाई थी नौकरी, दो शिक्षकों पर एफआईआर

भदोही। जिले के परिषदीय स्कूलों में तैनात छह शिक्षक फर्जीवाड़े में फंसते नजर आ रहे हैं। शिक्षकों का समस्त विवरण मानव संपदा पोर्टल पर अपलोड करने की अनिवार्यता के बाद फर्जीवाड़े की पोल खुलनी शुरू हो गई है। फर्जी अभिलेखों के जरिए नौकरी पाने के आरोप में दो के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी गई है जबकि चार अन्य के अभिलेख संदिग्ध मानते हुए नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया था। शिक्षकों ने कोई जवाब नहीं दिया है। लिहाजा उनके खिलाफ भी कार्रवाई तय मानी जा रही है।
बेसिक शिक्षा विभाग अपने समस्त शिक्षकों का संपूर्ण अभिलेख मानव संपदा पोर्टल पर अपलोड करा रहा है। इस प्रक्रिया में फर्जीवाड़े में लिप्त शिक्षकों की करतूत बाहर आ रही है। भदोही में डाटा की जांच में छह शिक्षकों के अभिलेख संदिग्ध मिले हैं। इनके वेतन पर तत्काल रोक लगाते हुए डीघ ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय फुलवरिया के शिक्षक अरुण कुमार और प्राथमिक विद्यालय गढ़ कलिंजर के अखिलेश चंद्र सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी गई है। इसके अतिरिक्त डीघ ब्लाक के ही उच्च प्राथमिक विद्यालय बेरासपुर के शिक्षक आशुतोष त्रिपाठी, अभोली ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय मऊरामशाला की श्यामदुलारी, ज्ञानपुर ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय कंसापुर प्रथम की प्रेमलता त्रिपाठी और भदोही ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय बभनौटी के शिक्षक उमाशंकर को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है। बीएसए अमित कुमार सिंह ने कार्रवाई की पुष्टि करते हुए बताया कि दो शिक्षकों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराने के साथ ही चार को नोटिस जारी की गई है। अभी तक किसी ने जवाब नहीं दिया है।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button