fbpx
चंदौलीप्रशासन एवं पुलिस

डीएम ने राजस्व वसूली का जाना हाल, बैठक से गायब वाणिज्य कर अधिकारी का रोका वेतन

चंदौली। कर-करेत्तर की बैठक गुरुवार को कलेक्ट्रेट सभागार में हुई। इसमें जिलाधिकारी संजीव सिंह ने राजस्व वसूली को लेकर चर्चा की। कम वसूली वाले विभागों के अधिकारियों को सख्त हिदायत दी। वहीं बैठक से गायब रहने पर वाणिज्य कर अधिकारी का वेतन रोकने का निर्देश दिया।

 

डीएम ने एडीएम को राजस्व वसूली की नियमित समीक्षा करने का निर्देश दिया। कहा कि परिवहन विभाग प्रवर्तन कार्य में तेजी लाए। ओवरलोड वाहनों को चिह्नित कर कार्रवाई करें। खनन विभाग के अफसर को भी राजस्व वसूली बढ़ाने की हिदायत दी। दैवीय आपदा के अंतर्गत लाभार्थियों को आर्थिक सहायता दिए जाने में विलंब करने व लापरवाही बरतने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए मंडी सचिव को कार्यशैली में सुधार लाने का निर्देश दिया। कहा कि भविष्य में ऐसी लापरवाही सामने आई तो कार्रवाई तय है। सभी तहसीलदारों को बड़े बकायेदारों की सूची बनाकर प्राथमिकता के आधार पर राजस्व वसूली करने के निर्देश दिए। कहा कि ओवरलोड वाहनों की व्यापक धर-पकड़ करते हुए नियमानुसार कार्रवाई सुनिश्चित करें। उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिया कि मत्स्य तालाबों के पट्टों का आवंटन/नवीनीकरण समय से करा लें। लंबित वादों की सुनवाई नियमित रूप से किया जाए। कृषक दुर्घटना बीमा योजना के अंतर्गत लंबित दावों का अविलंब निस्तारण सुनिश्चित कराएं। वरासत से संबंधित अविवादित मामलों का अविलंब निस्तारण किया जाए। कहा कि आईजीआरएस सहित विभिन्न स्तरों से प्राप्त होने वाले प्रार्थना-पत्रों का समय से निस्तारण कराएं। इसमें कोई लापरवाही नहीं बरती जाए। अपर जिलाधिकारी उमेश मिश्र, समस्त उपजिलाधिकारी, तहसीलदार सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button