fbpx
weatherचंदौली

Chandauli News : चंदौली में आग बरसा रहा आसमान, 46 डिग्री तक पहुंचा तापमान, बारिश को लेकर मौसम विभाग ने जारी किया पूर्वानुमान

भीषण लू व हीट वेव की चपेट में जिला, सुबह 10 बजे घर से बाहर निकलना मुश्किल 17 जून के बाद मौसम में परिवर्तन की आशंका, बंगाल की खाड़ी से चलेगी नम पुरवा हवा मानसून 20 जून तक यूपी में कर सकता है प्रवेश, फिर जिले में बारिश शुरू होने के आसार

चंदौली, भीषण गर्मी, तापमान, आग बरसा रहा आसमान
  • भीषण लू व हीट वेव की चपेट में जिला, सुबह 10 बजे घर से बाहर निकलना मुश्किल 17 जून के बाद मौसम में परिवर्तन की आशंका, बंगाल की खाड़ी से चलेगी नम पुरवा हवा मानसून 20 जून तक यूपी में कर सकता है प्रवेश, फिर जिले में बारिश शुरू होने के आसार
  • भीषण लू व हीट वेव की चपेट में जिला, सुबह 10 बजे घर से बाहर निकलना मुश्किल
  • 17 जून के बाद मौसम में परिवर्तन की आशंका, बंगाल की खाड़ी से चलेगी नम पुरवा हवा
  • मानसून 20 जून तक यूपी में कर सकता है प्रवेश, फिर जिले में बारिश शुरू होने के आसार

 

चंदौली। रविवार को चंदौली का तापमान 46 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। हीट वेव का भी प्रकोप देखने को मिला। इससे लोग भीषण गर्मी से बेहाल नजर आए। स्थिति यह रही कि सुबह 10 बजे के बाद घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया। मौसम विभाग के अनुसार 17 जून के बाद यूपी के मौसम में थोड़ा परिवर्तन देखने को मिल सकता है। बंगला की खाड़ी से नम पुरवा हवा का दौर शुरू होगा। इससे आसमान में बादल छाएंगे और तीखी धूप व हीट का प्रकोप कम होगा। 20 जून तक मानसून के यूपी पहुंचने के आसार हैं। उसके बाद बारिश का क्रम शुरू हो सकता है।

 

राज्य कृषि मौसम केंद्र के अनुसार शुष्क और गर्म पछुआ हवाओं तथा तीव्र सौर विकिरणीय ऊष्मन के कारण आज भी उत्तर प्रदेश के ज्यादातर स्थानों पर लू की स्थिति बनी रही। साथ ही प्रदेश में अनेक स्थानों पर प्रचंड लू की स्थिति उत्पन्न हो गई| इसके अतिरिक्त न्यूनतम तापमान भी सामान्य से 5-6 डिग्री सेल्सियस अधिक रहने से पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ स्थानों जबकि पूर्वी उत्तर प्रदेश में कहीं-कहीं उष्ण रात्रि की परिस्थितियां भी बनी रहीं। 46.3°C अधिकतम तापमान एवं 35.2°C न्यूनतम तापमान के साथ कानपुर का दिन और रात प्रदेश के जलवायु प्रेक्षण स्टेशनों में सबसे गर्म रहा। चंदौली में अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस रहा। वर्तमान मौसमी परिदृश्य में प्रदेश में ज्यादातर स्थानों पर जारी लू से भीषण लू की परिस्थितियों के आगामी 17 जून तक बिना किसी विशेष परिवर्तन के ऐसे ही जारी रहेगी।

 

17 जून के बाद बाद पूर्वी तराई क्षेत्र में बंगाल की खाड़ी से आने वाली नम पुरवा हवाओं के प्रभाव से बादल छाने और संभावित बारिश के कारण लू की स्थिति में आंशिक सुधार होने की संभावना है। आगामी 4-5 दिनों के दौरान महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश और उत्तर-पश्चिमी बंगाल की खाड़ी के कुछ और हिस्सों तथा गंगीय पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल के शेष हिस्सों और बिहार के कुछ हिस्सों में दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियाँ अनुकूल हैं। बिहार में आगे बढ़ने के उपरान्त ही मानसून के उत्तर प्रदेश में आगे बढ़ने के सम्बन्ध में स्थिति स्पष्ट होगी।

Back to top button
error: Content is protected !!