fbpx
वाराणसी

Varanasi News: महिला दीवान के प्रेम में फंसा दारोगा, पत्नी ने पति के खिलाफ दी तहरीर, लगाई गुहार

वाराणसी : देशभर में पीसीएस अधिकारी ज्योति मौर्य की कहानी अभी शांत नहीं हुई कि पुलिस विभाग में भी प्रेम प्रसंग का एक मामला सामने आया है। लखनऊ के रेडियो विभाग में तैनात एक दारोगा अश्विनी कुमार चंदौली के महिला थाने में कार्यरत एक महिला दीवान के प्रेम जाल में फंस गया है। दारोगा की पत्नी रत्नेश वर्मा ने जब महिला दीवान से शिकायत की तो महिला दीवान ने गाली गलौज करते हुए धमकी देने लगी। जिसके बाद दारोगा की पत्नी ने प्रयागराज के धूमनगंज थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बताया जा रहा है कि महेंद्र नगर ट्रांसपोर्ट नगर में रहने वाली महिला के दारोगा पति लखनऊ में तैनात हैं। महिला का आरोप है कि चंदौली की महिला थाने में तैनात एक तलाकशुदा दीवान ने दारोगा अश्विनी कुमार को अपने प्रेम जाल में फंसा लिया है। इससे उसके परिवार में कलह शुरू हो गई। दारोगा अपने परिवार की बजाय सिपाही के घरवालों का ध्यान रखता है। इस कारण वह और उसके बच्चे मानसिक तनाव की स्थिति से गुजर रहे हैं। दारोगा की पत्नी का यह भी आरोप है कि कुछ दिन पहले उन्होंने महिला दीवान को फोन किया और पूछा कि उनके पति के पास अनावश्यक काल क्यों करती हो, तब उसने गाली-गलौज करते हुए धमकी दी। इससे परेशान दारोगा की पत्नी ने पिछले दिनों धूमनगंज थाने पहुंचकर महिला दीवान के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई।

महिला दीवान वाराणसी कैंट थाना क्षेत्र की रहने वाली है। दारोगा प्रयागराज धूमनगंज थाना क्षेत्र का रहने वाला है। दोनों की मुलाकात लगभग 12 साल पहले प्रयागराज में हुई थी। तब से दोनों के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा है। दारोगा की पत्नी ने सीसीटीवी कैमरे का फुटेज सामने रखते हुए न्याय की गुहार लगाई है। महिला दीवान चंदौली जनपद में तैनात है। महिला दीवान लखनऊ दारोगा अश्विनी कुमार से मिलने भी जाती है, जिसका सीसीटीवी फुटेज दरोगा की पत्नी रत्नेश वर्मा ने अपर पुलिस उपायुक्त अपराध ममता रानी को दिखाया। दारोगा की पत्नी आज वाराणसी के अपर पुलिस उपायुक्त महिला अपराध ममता रानी के पास गुहार लगाने पहुंची। अपर पुलिस उपायुक्त महिला अपराध ने बताया कि जनसुनवाई के माध्यम से दारोगा की पत्नी रत्नेश वर्मा का प्रार्थना पत्र आया है, हमने दोनों पक्षों को बुलवाया है और जांच कराकर लीगल कार्रवाई की जाएगी।

Back to top button
error: Content is protected !!