fbpx
चंदौलीराजनीतिराज्य/जिला

सैयदराजा विधानसभा में बढ़ी इस सपा नेता की सक्रियता, मजबूत कर रहे टिकट की दावेदारी

 

चंदौली। पूर्व सपा जिलाध्यक्ष और वरिष्ठ नेता बलिराम यादव इस दिनों सैयदराजा विधान सभा में काफी सक्रिय हैं। गांव-गांव जाकर लोगों को पार्टी की नीतियों से अवगत करा रहे हैं। वहीं कृषि बिल के खिलाफ भी मोर्चा खोले हुए हैं। जमीनी नेता बलिराम यादव सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के भी काफी करीबी माने जाते हैं। वहीं पिछले चुनाव में सपा के टिकट पर चुनाव लड़े मनोज सिंह डब्लू का जो हश्र हुआ उसे देखते हुए समर्थकों का एक बड़ा वर्ग बलिराम यादव को टिकट के बड़े दावेदार के रूप में देख रहा है।
पूर्व जिलाध्यक्ष बलिराम यादव कमर कसकर मैदान में उतर चुके हैं। कृषि बिल के विरोध में उनका आंदोलन एक भी रुके बगैर अनवरत जारी है। किसानों के बीच जाकर उनतक राष्ट्रीय अध्यक्ष की बात पहुंचा रहे हैं। बलिराम और उनकी बैलगाड़ी की विधानसभा में खूब चर्चा भी हो रही है। वह लग्जरी गाड़ियों की बजाए बैलगाड़ी के गांवों का भ्रमण कर रहे हैं। विरोध का उनका तरीका लोगों का काफी भा रहा है। मंगलवार को तुलसीआश्रम, जोगवां और पिपरी आदि गांवों में जाकर लोगों से मिले और बिल के नुकसान के बारे में बताया। वहीं बुधवार को महुजी गांव में चाौपाल लगाकर किसानों से रूबरू हुए। बलिराम को पूर्व सीएम अखिलेश यादव का काफी करीबी माना जाता है। अखिलेश यादव के पास जब युवजन सभा की कमान थी तब लगभग एक दशक तक बलिराम यादव युवजन सभा के जिलाध्यक्ष रहे। वहीं पिछले चुनाव में पार्टी उम्मीदवार और निवर्तमान विधायक मनोज सिंह प्रतिद्वंदियों को चुनौती नहीं दे सके और तीसरे स्थान पर रहे। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि पार्टी किसी नए चेहरे को मौका दे सकती है। सूत्रों की माने तो बलिराम यादव भी मजबूत विकल्प हैं। पूर्व जिलाध्यक्ष के साथ संतोष उपाध्याय, रविकांत यादव, अशोक प्रधान भी किसान आंदोलन की बागडोर संभाले हुए हैं।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button