fbpx
ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

चंदौलीः दुधमुंहे बच्चे ने मां की गोद में तोड़ दिया दम, राजकीय महिला अस्पताल में रात में नहीं मिले चिकित्सक, इलाज के अभाव में गई जान, हंगामा

चंदौली। हे भगवान! राजकीय महिला अस्पताल मुगलसराय के लापरवाह चिकित्सक न जाने और कितने मरीजों की जान लेंगे। बुधवार की रात एक दुधमुंहे बच्चे ने इलाज के अभाव में अपनी मां की गोद में ही दम तोड़ दिया। रात 10 बजे बच्चा बीमार हुआ अस्पताल में कोई भी चिकित्सक मौजूद नहीं था। परिजन भटकते रहे और नवजात की मौत हो गई। घटना से नाराज परिजनों ने हंगामा भी किया और सीएमओ से शिकायत की। राजकीय महिला अस्पताल के लापरवाह चिकित्सक सरकार की किरकिरी करा रहे हैं।

दरअसल जौनपुर निवासी राहुल सरोज परिवार के साथ मुगलसराय के न्यू महाल कालोनी में रहते हैं। राहुल के अनुसार उनकी पत्नी की पीपी सेंटर से डिलीवरी हुई। बच्चा रात 10 बजे अचानक बीमार हुआ तो राजकीय महिला चिकित्सालय मुगलसराय में न तो चिकित्सक मौजूद था ना ही स्टाफ नर्स। परिजन पूरी रात इलाज के लिए भटकते रहे। अंत में बच्चे ने अपनी मां की गोद में ही दम तोड़ दिया। घरवालों ने खूब हंगामा किया और व्यवस्था को कोसा। फोन पर सीएमओ से शिकायत भी की। मुगलसराय का राजकीय अस्पताल पहले भी चर्चा में रहा है। यहां न तो डाक्टर समय से आते हैं ना ही इलाज की समुचित व्यवस्था है। जबकि इसकी गिनती जिले के सबसे महत्वपूर्ण अस्पतालों में होती है। शिकायत के बाद भी अधिकारी लापरवाह चिकित्सकों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करते। जनप्रतिनिधि भी उदासीन बने हुए हैं।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Back to top button