fbpx
क्राइमचंदौली

Chandauli News : करजरा गांव में हत्या के दो आरोपित चढ़े पुलिस के हत्थे, फावड़े से प्रहार कर युवक को कर दिया था अधमरा

फावड़े से प्रहार कर युवक को कर दिया था अधमरा ट्रामा सेंटर में इलाज के दौरान घायल की हो गई थी मौत पुलिस मुकदमा दर्ज कर आरोपित की कर रही थी तलाश

चंदौली, धीना के करजरा में हत्या, पुलिस ने आरोपितों को पकड़ा
  • फावड़े से प्रहार कर युवक को कर दिया था अधमरा ट्रामा सेंटर में इलाज के दौरान घायल की हो गई थी मौत पुलिस मुकदमा दर्ज कर आरोपित की कर रही थी तलाश
  • फावड़े से प्रहार कर युवक को कर दिया था अधमरा
  • ट्रामा सेंटर में इलाज के दौरान घायल की हो गई थी मौत
  • पुलिस मुकदमा दर्ज कर आरोपित की कर रही थी तलाश

 

चंदौली। धीना थाना के करजरा गांव में पिछले दिनों हुई मारपीट में घायल की मौत की घटना में पुलिस ने दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि फावड़े से मारकर युवक को अधमरा कर दिया था। इलाज के दौरान युवक की मौत हो गई थी। इसके बाद पुलिस मुकदमा दर्ज कर आरोपित की तलाश कर रही थी।

 

6 जुलाई को सुबह अजय प्रसाद उर्फ धर्मू अपनी निजी भूमि पर चहारदीवारी का निर्माण करा रहे थे। उसी समय करजरा गांव निवासी नरेन्द्र सिंह पुत्र स्व. विजय बहादुर सिंह निर्माण करने से मना करने लगे तब दोनों पक्षों से लोग एकत्र हो गए। आपस में मारपीट होने लगी। मारपीट के दौरान अभियुक्त अभिषेक सिंह ने पास में रखे फावड़े से अजय प्रसाद उर्फ धरमू के सिर पर वार कर दिया। इससे अजय घायल हो गए। दोनों पक्षों को उनके परिजनों की ओर से जिला चिकित्सालय उपचार ले जाया गया। जहां से उन्हें ट्रामा सेन्टर बीएचयू वाराणसी रेफर कर दिया गया। इलाज के दौरान घायल अजय प्रसाद उर्फ धरमू की मौत हो गई।

 

धीना पुलिस ने आरोपित नरेन्द्र सिंह पुत्र स्व. विजय बहादुर सिंह, आशीष सिंह उर्फ विनायक पुत्र नरेन्द्र सिंह और अभिषेक सिंह पुत्र नरेन्द्र सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। अभियुक्तगण की गिरफ्तारी के लिए लगातार थाना धीना की पुलिस टीम की ओर से दबिश दी जा रही थी। पुलिस ने सूचना के आधार पर अभिषेक सिंह पुत्र नरेन्द्र सिंह को बरहन चौराहा पर एक चाय पानी की दुकान से गिरफ्तार कर लिया। उसकी निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त फावड़ा पोल्ट्री फार्म के सामने धान की भूसी में से बरामद किया गया। वहीं आरोपित नरेन्द्र सिंह को अमड़ा तिराहे के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस आरोपितों को थाने लाकर पूछताछ के साथ ही विधिक कार्रवाई में जुटी रही।

 

Back to top button
error: Content is protected !!