fbpx
ख़बरेंचंदौली

Chandauli News : पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू ने पंप कैनाल चलाने के लिए अधिकारियों को दिया दो दिन का अल्टीमेटम, बंधक बनाने की चेतावनी

किसानों की समस्य़ा के मद्देनजर पूर्व विधायक ने गुरैनी पंप कैनाल का किया निरीक्षण धान की रोपाई के सीजन में पंप कैनाल बंद होने पर जताई नाराजगी बोले, दो दिनों में नहीं चालू हुआ कैनाल तो बैठाए जाएंगे अधिकारी

चंदौली, पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू, गंगा पंप कैनाल
  • किसानों की समस्य़ा के मद्देनजर पूर्व विधायक ने गुरैनी पंप कैनाल का किया निरीक्षण धान की रोपाई के सीजन में पंप कैनाल बंद होने पर जताई नाराजगी बोले, दो दिनों में नहीं चालू हुआ कैनाल तो बैठाए जाएंगे अधिकारी
  • किसानों की समस्य़ा के मद्देनजर पूर्व विधायक ने गुरैनी पंप कैनाल का किया निरीक्षण
  • धान की रोपाई के सीजन में पंप कैनाल बंद होने पर जताई नाराजगी
  • बोले, दो दिनों में नहीं चालू हुआ कैनाल तो बैठाए जाएंगे अधिकारी

 

चंदौली। सपा के राष्ट्रीय सचिव मनोज सिंह डब्लू गुरुवार को गंगा नदी पर स्थित गुरैनी पम्प कैनाल का जायजा लिया। धान की रोपाई के सीजन में पंप कैनाल बंद मिलने पर नाराजगी जताई। उन्होंने पंप कैनाल शुरू करने के लिए अधिकारियों को दो दिन का अल्टीमेटम दिया। चेताया कि यदि पंप कैनाल चालू नहीं हुआ तो अधिकारी कैनाल के अंदर बैठाए जाएंगे।

 

सपा नेता ने कटाक्ष किया कि फेसबुक पर फोटो लगाने व चार जुमले कहने से कैनाल नहीं चलते। उसके लिए प्रयास करने की जरूरत होती है। बनारस में एससी कमरों में बैठक करेंगे तो कैनाल ऐसे ही सूखी रह जाएगी और किसान की फसलें सिंचाई के अभाव सूख जाएगी। लिहाजा किसानों के दुख-दर्द को समझें और अधिकारियों के साथ मौके पर जाकर बैठक करके समस्या का समाधान करने की दिशा में काम करें। आरोप लगाया कि मात्र दो घंटे कैनाल चलवाकर फोटो खींचाकर जनता और किसानों को गुमराह करने से बचे। जनता जागरूक है और अब सब कुछ जान चुकी है। कहा कि क्षेत्रीय किसान इस वक्त सिंचाई की समस्या से जूझ रहे हैं क्योंकि गुरैनी पम्प कैनाल तकनीकी गड़बड़ी के कारण नहीं चल रहा है। तकनीकी दूर करने के नाम पर लघु डाल सिंचाई व बिजली विभाग फंड को लेकर आपस में नूराकुश्ती कर रहे हैं। कहा कि इस समस्या को लेकर डीएम से मुलाकात की जाएगी और दो दिनों के अंदर पम्प कैनाल के संचालन को सुनिश्चित किया जाएगा। यदि ऐसा करने में अधिकारी विफल रहे तो किसान इन अधिकारियों को सूखी कैनाल के अंदर बैठाने का काम करेंगे।

 

 

 

 

Back to top button
error: Content is protected !!