fbpx
क्राइमचंदौलीराज्य/जिला

लाकडाउन में जिसे दिया सहारा, उसी ने डाक्टर को मौत के घाट उतारा

 

चंदौली। बलुआ थाना क्षेत्र के टांडा कला गांव निवासी 37 वर्षीय होम्योपैथिक चिकित्सक डा. अरूण शर्मा की मौत की गुत्थी जैसे-जैसे सुलझती जा रही है दिल दहला लेने वाली वारदात खुलकर सामने आ रही है। डाक्टर की हत्या के आरोप में गिरफ्तार रोहित निषाद कोरोना काल में लाकडाउन के दौरान जब बेरोजगार हो गया तब चिकित्सक ने ही उसे सहारा दिया और अपने क्लीनिक पर बतौर कंपाउंडर नौकरी पर रख लिया। यहीं से रोहित की चिकित्सक की पत्नी से नजदीकियां बढ़ीं और दोनों ने मिलकर डाक्टर की हत्या की साजिश रच डाली। घटना वाली रात को डाक्टर की पत्नी ने खाने में कोई नशीला पदार्थ मिला दिया। भोजन करने के कुछ ही देर बाद जब चिकित्सक को घबराहट होने लगी तो वे घर की तीसरी मंजिल पर सो रहे अपने पिता को जगाने गए। इसी दौरान आरोपित पत्नी ने सीढ़ियों से धक्का दे दिया। इसके बाद रोहित निषाद और उसके साथियों के बाकी काम काम पूरा किया। पुलिस को चिकित्सक के खून के छींटे भी सीढ़ी और दरवाजे के पास मिले हैं।

एनडीआरएफ की टीम करेगी शव की तलाश

चिकित्सक अरूण शर्मा की हत्या के आरोप में गिरफ्तार उसकी पत्नी प्रियंका और प्रेमी रोहित निषाद ने पहले तो पुलिस को बरगलाने की काफी कोशिश की। हत्या के बाद शव को कहां ठिकाने लगाया है इस सवाल का गोल-मटोल जवाब देते रहे। अंत में जब पुलिस सख्त हुई तब जोकर सही स्थान की जानकारी दी। सैदपुर घाट के पास उस स्थान पर शव को फेका जहां गहराई अधिक थी। सोमवार को पूरे दिन गोताखोर शव की तलाश करते रहे। लेकिन कामयाबी नहीं मिल सकी। अंधेरा होने के चलते सर्च आपरेशन को रोक दिया गया। पुलिस के अनुसार मंगलवार को एनडीआरएफ की मदद से शव की तलाश कराई जाएगी। घटना क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button