fbpx
ख़बरेंमिर्ज़ापुरराज्य/जिला

शहर में दस साल की दानवीर बिटिया के चर्चे, डीएम बने मुरीद

मीरजापुर। दस साल की सुहानी के दान के चर्चे पूरे शहर में हो रहे हैं। समझदार बिटिया ने काम ही कुछ ऐसा कर दिया। साइकिल खरीदने के लिए गुल्लक में एक-एक रुपया जमा कर रही थी। लेकिन एक झटके में गुल्लक तोड़ा और अपना पूरा पैसा कोरोना की रोकथाम के लिए पीएफ केयर फंड में दान कर दिया। सुहानी ने चार हजार 91 रुपए दे दिए। सुहानी की इस समझादारी के जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल भी कायल हो गए। उन्होंने बच्ची की न सिर्फ तारीफ की बल्कि उसे नई साइकिल और टैबलेट भी उपहार स्वरूप दिया।
मीरजापुर नगर के घंटाघर की रहने वाली 10 वर्ष की सुहानी साइकिल के लिए पैसा इकट्ठा कर रही थी। प्रतिदिन अपना खर्च बचाकर रुपये गुल्लक में डालती थी। लेकिन उसने सुना कि लोग कोरोना से परेशान हैं। कई लोग आगे आकर ऐसे लोगों की मदद कर रहे हैं। ऐसे में सुहानी गुल्लक लेकर अपने पिता के साथ शहर कोतवाली पहुंच गयी थी। उसने अपना पूरा गुल्लक कोविड 19 की रोकथाम के लिए दान दे दिया। कक्षा 5 की छात्रा की इस दरियादिली के सब कायल हो गए। थाने पर मौजूद नगर मजिस्ट्रेट जगदम्बा सिंह ने गुल्लक से मिले रुपये को पीएम केयर फंड में जमा करा दिया। जब इसकी खबर जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल को हुई तो वह भी काफी प्रभावित हुए। बहरहाल सोमवार को डीएम और नगर मजिस्ट्रेट ने पहल करते हुए समझदार बिटिया को उपहार स्वरूप साइकिल और टैबलेट दिया। जिलाधिकारी ने कहा कि बालिका सुहानी का कार्य बहुत ही सराहनीय और प्रेरणादायक है। ऐसे में उसकी साइकिल की इच्छा भी पूरी कर दी गई।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!