fbpx
राजनीतिराज्य/जिलावाराणसी

किसानों के समर्थन में सपा का हल्लाबोल, नजरबंद किए जा रहे नेता

वाराणसी/चंदौली/सोनभद्र/मिर्जापुर/आजमगढ़/गाजीपुर

किसानों के समर्थन में सपाइयों ने सोमवार को पूरे पूर्वांचल में हल्लाबोल दिया। सपा का कार्यक्रम पूर्व निर्धारित था ऐसे में पुलिस सतर्क थी। कई जनपदों में सपा के वरिष्ठ नेताओं को नजरबंद कर लिया गया है। कई स्थानों पर पुलिस संग कार्यकर्ताओं की नोंकझोक भी हुई है। सपाई सड़क पर उतरकर आंदोलन कर रहे हैं।


वाराणसी में अधिवक्ता किसान न्याय मोर्चा के नेता महेंद्र यादव को पहड़िया लालपुर में उनके आवास पर नजरबंद किया गया है। पूर्व राज्य मंत्री सुरेंद्र सिंह पटेल और रोहनिया के पूर्व विधायक महेंद्र सिंह पटेल पदयात्रा निकालने वाले थे। लेकिन पुलिसा नेताओं के आवास पर पहुंची और उन्हें नजरबंद कर दिया।


चंदौली में सपा के पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू को माधवपुर स्थित उनके आवास पर पुलिस ने नजरबंद कर दिया है। सपा नेता मनोज सिंह काका को भी पुलिस ने रोकने की कोशिश की लेकिन मनोज सिंह पुलिस को छकाते हुए ट्रैक्टर से सकलडीहा होकर मुख्यालय की तरफ निकल चुके हैं। चकिया रोड तिराहे पर सपाइयों की पुलिस के साथ नोंकझोक हुई। सपा नेता चकरू यादव, संतोष आदि को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।


मिर्जापुर में सपा जिलाध्यक्ष देवी चाौधरी के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने सड़कपर उतरकर कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया। पुलिस ने यहां भी कार्यकर्ताओं को रोकने की नाकाम कोशिश की।
गाजीपुर में पूर्व मंत्री ओमप्रकाश सिंह, पूर्व सांसद राधेमोहन सिंह आदि नेताओं को उनके घरों में नजरबंद किया गया है। बलिया में किसान बिल के विरोध में दर्जनों ट्रैक्टर से बड़ी संख्या में कार्यकर्ता विपक्ष के नेता रामगोविंद चाौधरी के नेतृत्व में बांसडीह तहसील मुख्यालय के लिए रवाना हो चुके हैं। आजमगढ़ में पार्टी कार्यकर्ता विधायक दुर्गा यादव के नेतृत्व में जिला कार्यालय से निकले ही थे कि एसडीएम सदर विमल कुमार दूबे और सीओ सिटी ने उन्हें रोक लिया। नाराज कार्यकर्ता धरने पर बैठे हुए हैं।


सोनभद्र में सपा जिलाध्यक्ष कोषाध्यक्ष विजय शंकर जायसवाल और जिला पंचायत अध्यक्ष अनिल यादव को पुलिस ने नजरबंद कर दिया। पूर्व सपा विधायक रमेश दुबे कार्यकर्ताओं के साथ राबर्ट्सगंज में विंध्या आटो सेल्स के सामने धरना दे रहे हैं।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!