fbpx
चंदौलीप्रशासन एवं पुलिसराज्य/जिला

सिकटिया कांडः पुलिस की नोटिस में मृत विशाल का नाम शामिल होने के मामले में चंदौली एसपी ने उठाया बड़ा कदम

चंदौली। सिकटिया कांड के आरोपितों को पुलिस की ओर से जारी की गई नोटिस में मृत विशाल का नाम शामिल होने के मामले को एसपी अंकुर अग्रवाल ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने  जांच कराने का निर्णय लेते हुए एएसपी को इसकी जिम्मेदारी सौंप दी है, जो इस गंभीर लापरवाही के कारणों की पड़ताल करेंगे। बकौल एसपी दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई तय है। पूर्वांचल टाइम्स ने सबसे पहले इस खबर को प्रकाशित किया था, जिसके बाद पुलिस महकमे में खलबली मच गई और एसपी ने मामले की जांच बैठा दी।

सीओ साहब की नोटिस में मृत विशाल का नाम
बीते 13 नवंबर को अलीनगर थाना क्षेत्र के सिकटिया में बवाल हो गया। तारनपुर पासवान बस्ती और सिकटिया यादव बस्ती के लोग आमने सामने आ गए। विशाल पासवान की पीट-पीटकर हत्या का दी गई। इसमें 10 नामजद सहित कई अज्ञात को आरोपित बनाया गया। घटना के मुख्य आरोपित कमला यादव की पत्नी सरस्वती देवी की ओर से मिली तहरीर की जांच कर रहे सीओ सदर अनिल राय ने दूसरे पक्ष के लोगों को नोटिस जारी करते हुए बयान दर्ज कराने के लिए कार्यालय बुलाया। इस नोटिस में मृत विशाल का नाम भी शामिल है। इस लापरवाही ने एक बार फिर पुलिस की किरकिरी कराई। सीओ कार्यालय से होते हुए नोटिस पहले सीओ साहब और उसके बाद अलीनगर थाना प्रभारी के यहां पहुंची लेकिन किसी का ध्यान इस गंभीर गलती की तरफ नहीं गया। हालांकि जिम्मेदार अधिकारी कार्यालय के मुंशी पर भी इसका पूरा ठीकरा फोड़ रहे हैं। बहरहाल पूर्वांचल टाइम्स में खबर चलने के बाद एसपी ने इसे संज्ञान में लेते हुए एएसपी को जांच का निर्देश दिया है।

नोटिस में मृतक का नाम शामिल होना लापरवाही है। एएसपी को जांच सौंपी गई है, जो पता लगाएंगे कि आखिर गलती हुई कैसे, जो भी दोषी होगा विधिक कार्यवाही की जाएगी। – एसपी चंदौली अंकुर अग्रवाल

Back to top button
error: Content is protected !!