fbpx
क्राइमचंदौलीराज्य/जिला

जानिए डाक्टर हत्याकांड की पुलिसिया कहानी, इस वजह से पतिहंता बनी प्रियंका

चंदौली। बलुआ थाना क्षेत्र के टांडाकला निवासी होम्योपैथिक चिकित्सक अरूण शर्मा हत्याकांड में पुलिस ने मृतक की पत्नी प्रियंका शर्मा और उसके प्रेमी रोहित निषाद को जेल भेज दिया। हालांकि पुलिस अभी मृतक का शव बरामद नहीं कर सकी है। आरोपितों ने पूछताछ में बताया कि दोनों का एक वर्ष से प्रेम संबंध चल रहा था। दोनों मौका पाकर नाजायज संबंध भी बनाते थे। चिकित्सक को इस बात की जानकारी थी इसलिए वह पत्नी को मारते-पीटते थे। ऐसे में प्रियंका और रोहित ने डा. अरूण को रास्ते से हटाने की योजना बनाई और रोहित ने इस काम के लिए अपने एक मित्र पुरा गणेश गांव निवासी भोला निषाद की मदद ली। भोला ने काम के बदले में पांच लाख की मांग की। लेकिन ढाई लाख में सौदा तय हुआ। डाक्टर की हत्या के बाद वादे के अनुसार प्रियंका ने ढाई लाख रुपये दे दिए।
एएसपी प्रेमचंद ने पुलिस लाइन में पत्रकारों को बताया कि घटना वाली रात डा. अरूण शर्मा की पत्नी प्रियंका ने खाने में नशीली दवा मिला दी। खाना खाने के बाद जब अरूण बेहोश हो गए तब रोहित और भोला घर में दाखिल हुए और दोनों ने मिलकर अरूण को बिस्तर से नीचे उतारा और चाकू से मारकर उसकी हत्या कर दी। फिर उसकी लाश को कंबल में लपेटकर बांस के दो छोटे टुकड़ों से बांध दिया और ठिकाने लगाने गंगा नदी की तरफ चले गए। तब तक प्रियंका घर में गिरे खून के धब्बों को साफ करती रही। उधर शव को नदी में फेकने के बाद रोहित फिर घर आया और उसने में खून साफ करने में मदद की। इसके बाद दोनों बच्चों, जेवर और कपड़ों के साथ घर से भागने की फिराक में थे कि पुलिस ने पकड़ लिया।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button