fbpx
चंदौलीराजनीतिराज्य/जिला

चकिया में सपाइयों ने छुड़ा दिए पुलिस के पसीने, जोरदार प्रदर्शन कर निकाली भड़ास

संवाददाताः मुरली श्याम

चंदौली। सपाइयों ने गुरुवार को पुलिस के पसीने छुड़ा दिए। पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव के आह्वान पर कार्यकर्ताओं ने तहसील मुख्यालयों पर जोरदार प्रदर्शन किया। चकिया में कड़ी सुरक्षा के बावजूद सपाई तहसील के ठीक बगल में गांधी पार्क में जुटे और आंदोलन को धार दी। जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लाक प्रमुख चुनाव में सत्ता का दुरुपयोग, पेट्रोल डीजल के बढ़ रहे दामों और महंगाई को लेकर प्रदर्शन किया तहसीलदार फूलचंद यादव को राष्‍ट्रपति के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा।

सपाइयों का जोरदार आंदोलन
सपा के युवा नेता प्रवीण सोनकर के नेतृत्व में समर्थकों ने जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शन के दौरान पुलिस का कड़ा पहरा रहा। पूर्व विधायक पुनम सोनकर ने सरकार व प्रशासन पर लोकतंत्र की हत्या करने का आरोप लगाया। जिले के सभी तहसील मुख्यालयों पर सपा ने प्रदर्शन किया। गन्ने का भुगतान, कृषि कानून व महंगाई समेत 16 सूत्री मांगों को लेकर तहसीलदार चकिया फूलचंद्र यादव को ज्ञापन सौंपा। प्रदर्शन के दौरान जनसंख्या नियंत्रण कानून पर सपा नेता ई. प्रवीण सोनकर ने कहा कि पहले बीजेपी के सांसद और विधायकों के बच्चे कम हों और उनके टिकट काटें तब कानून लागू करें। कहा कि आपातकाल लगाया गया था, जबरदस्ती नसबंदी कराई गई थी तो कांग्रेस आज तक वापस लौट कर नहीं आ पाई। वही भाजपा कर रही है। यह गरीबों के साथ अन्याय है, मुसलमानों और दलितों के साथ अन्याय है। इसको सपा बर्दाश्त नहीं करेगी। कहा कि 2022 में जैसे बंगाल में खेला होई वैसे यूपी में भी खेला होई। इसलिए हम लोग जनसंख्या बिल का विरोध करते हैं। उन्होंने कहा कि अगर कानून लागू करें तो पूरे देश में लागू करें। चुनाव के वक्त यह कानून लाना चाहते हैं। इसको लागू नहीं होने देंगे। इस दौरान ब्लाक प्रमुख व जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव धांधली से भाजपा की तानाशाही सरकार ने सत्ता का दुरुपयोग कर कब्जा तो कर लिया लेकिन वह दिन दूर नहीं जब समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी और भाजपा के जुल्म का हिसाब होगा।

ज्ञापन में की गई ये मांग
ज्ञापन में मांग की गई है कि किसानों को उनकी फसलों का लाभकारी मूल्य दिया जाए और एमएसपी पर कानून बनाया जाए, प्रदेश में किसानों के गन्ने का करीब 15 करोड़ रुपए का तत्काल भुगतान कराया जाए. कृषि कानूनों को वापस लिया जाए और डीजल-पेट्रोल, रसोई गैस, खाद बीज पर बढ़ती महंगाई पर रोक लगाई जाए। बेरोजगार नौजवानों को रोजगार दिलाया जाए, उत्तर प्रदेश में ध्वस्त कानून व्यवस्था को दुरुस्त किया जाए, महिलाओं के साथ हो रहे अपराध पर रोक लगाई जाए, सपा कार्यकर्ताओं पर फर्जी मुकदमे दर्ज करना तत्काल बंद किया जाए, उत्तर प्रदेश की बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को तत्काल दुरुस्त किया जाए, बढ़ते भ्रष्टाचार पर रोक लगाई जाए, कोरोना काल में सरकार द्वारा किए गए भ्रष्टाचार की जांच कराई जाए और मृतकों के परिजनों को उचित मुआवजा दिया जाए, जिला पंचायत अध्यक्ष, ब्लॉक प्रमुख के चुनाव में हुई धांधली, हिंसा की जांच कराई जाए, जांच में दोषी पाए जाने वालों पर कड़ी से कड़ी करार्रवाई की जाए और दोबारा मतदान कराया जाए, पिछड़ा वर्ग को अनुमन्य 27 प्रतिशत आरक्षण में कटौती बंद हो।

ये नेता रहे मौजूद
इस दौरान अश्वनी सोनकर, अमित सोनकर, प्रदेश सचिव मनोज यादव, युवजन सभा प्रदेश सचिव राजेश यादव, विनोद सोनकर, दशरथ सोनकर, अजय शेखर पुल्लू यादव, रमेश यादव, बलवंत गोड़, सुधाकर कुशवाहा, दीपक यादव प्रधान, अवधेश यादव प्रधान, बलवंत यादव प्रधान, सुरेंद्र चाौहान, बब्बन यादव, रामचंद्र त्यागी, अभिषेक बहेलिया, पिंटू बाबा, बीपी यादव ,दशरथ यादव आदि उपस्थित रहे।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!