fbpx
चंदौलीप्रशासन एवं पुलिसराज्य/जिला

चंदौली में पराली जलाने पर आठ किसानों पर मुकदमा, जुर्माना भी वसूला जाएगा

चंदौली। पराली किसानों और कृषि विभाग दोनों के लिए परेशानी का सबब बनी हुई है। किसान जहां पराली प्रबंधन को लेकर परेशान हैं वहीं कृषि विभाग इस बात की निगरानी में माथापच्ची कर रहा है कि किसान पराली न जलाने पाएं। चंदौली में पराली जलाने पर आठ किसानों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया जा चुका है। सेटेलाइट से प्राप्त तस्वीरों के आधार पर कृषि विभाग की ओर से यह कार्रवाई अमल में लाई गई है।

यह भी पढ़ेंः कुख्यात बदमाश की हिमाकत देखिए, पिस्टल सटाया और मांगी रंगदारी


जिले में आठ किसानों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के साथ प्रति हेक्टेयर 2500 रुपये की दर से 20 हजार रुपये जुर्माना भी लगाया जा चुका है। दरअसल पराली जलाने से पर्यावरण प्रदूषित न हो इसके लिए कृषि विभाग जिला प्रशासन से सहयोग से सेटेलाइट के जरिए निगरानी कर रहा है।

यह भी पढ़ेंः चंदौली जिले को इस क्षेत्र में अच्छे प्रदर्शन का इनाम, मिले 10 करोड़ रुपये

सेटेलाइट से प्राप्त तस्वीरों के आधार पर बरहनी ब्लाक के पिपरदहा गांव में किसान सीताराम, तालिका सिंह, अजीत सिंह, अनिल सिंह, जोशी मारकंडेय और सिकठा गांव में विष्णु को नियमों का उल्लंघन करते पकड़ा गया। इन किसानों ने अपने खेतों में पराली जलाई थी। हलका लेखपाल और प्राविधिक सहायक के धीना थाने में मुकदमा दर्ज करवाया। कृषि उप निदेशक राजीव भारती ने बताया कि किसानों से 20 हजार रुपये जुर्माना भी लिया जाएगा इसके लिए नोटिस जारी कर दी गई है। पराली जलाने पर आगे भी कार्रवाई जारी रहेगी। बताया कि पराली जलाने से पर्यावरण प्रदूषित हो रहा है साथ ही मिट्टी की उर्वरा शक्ति भी कम होती है।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button