fbpx
मिर्ज़ापुरराजनीतिराज्य/जिला

बाहुबली विजय मिश्रा की बयानबाजी से पुलिस विभाग में खलबली, इंस्पेक्टर सहित आठ पुलिसकर्मी निलंबित, पूर्व विधायक के खिलाफ भी एफआईआर

मिर्जापुर। मिर्जापुर के सीजेएम न्यायालय में पेशी पर आए भदोही के बाहुबली पूर्व विधायक विजय मिश्रा ने एडीजी पर गंभीर आरोप लगाए। कहा कि एडीजी ने ही मेरे पेट्रोल पंप पर एके-47 रखवाई थी। यह बात चार महीने पहले ही मुझे चंदौली के विधायक सुशील सिंह ने बता दी थी। पुलिस अभी तीन एके-47 और नाइन एमएम की पिस्टल दिखाने की तैयारी में है। पूर्व विधायक के इस बयान ने पुलिस महकमे में खलबली मचा दी। विभाग ने इसे गंभीरता से लिया। विजय मिश्रा के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालने सहित विभिन्न धाराओं में कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया। यहीं नहीं ड्यूटी में लापरवाही बरतने पर एक इंस्पेक्टर सहित आठ पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है। जिले के एसपी संतोष कुमार मिश्र ने इस कार्रवाई की जानकारी दी।

एसपी ने बताया कि विजय मिश्रा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। साथ ही ड्यूटी में लापरवाही बरतने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है। पूर्व विधायक के साथ आए पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए संबंधित जिले के पुलिस अफसरों से पत्राचार किया जाएगा। एसपी सिटी संजय कुमार वर्मा ने बताया कि विजय मिश्रा की पेशी के दौरान एक इंस्पेक्टर, एक सब इंस्पेक्टर और 25 सिपाही तैनात थे। बावजूद पूर्व विधायक ने मीडिया को बयान दिया। एक इंस्पेक्टर और सात पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। चार अगस्त को पूर्व विधायक विजय मिश्रा के भदोही स्थित बंद पड़े पेट्रोल पंप से एक एके-47 सहित हथियारों का जखीरा बरामद हुआ। उनके पुत्र विष्णु मिश्रा की निशानदेही पर पुलिस ने पंप से हथियार बरामद किए थे।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Back to top button