fbpx
ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

चंदौलीः गांवों में स्ट्रीट लाइट लगाने के नाम पर हो रहा खेल, भ्रष्टाचार में लिप्त ग्राम पंचायत अधिकारी निलंबित, उप निदेशक तक पहुंची थी शिकायत

चंदौली। ग्राम पंचायतों में स्ट्रीट लाइट लगाने के नाम पर प्रधान और सचिव खेल कर रहे हैं। सकलडीहा ब्लाक के ग्राम पंचायत केशवपुर में ऐसा ही एक मामला प्रकाश में आया है। ब्रांडेड कंपनी की लाइट के स्थान पर खराब गुणवत्ता की लोकल कंपनी की लाइट लगाकर तकरीबन दो लाख रुपये का भुगतान कर दिया गया। खामी पकड़ में आने के बाद डीपीआरओ ने ग्राम पंचायत अधिकारी महेंद्र प्रताप को निलंबित कर दिया है। ताज्जुब यह कि गड़बड़ी स्थानीय अधिकारियों ने नहीं पकड़ी बल्कि उप निदेशक वाराणसी मंडल के निर्देश पर यह कार्रवाई की गई।
उप निदेशक के निर्देश के बाद सकलडीहा ब्लाक के ग्राम सभा केशवपुर में लगाई गई स्ट्रीट लाइटों की जांच की गई। सूर्या कंपनी की लाइटों के स्थान पर लोकल ब्रांड की लाइटें लगा दी गई थीं। सेक्रेटरी ने कालेश्वरनाथ इंटरप्राइजेज सकलडीहा को 197120 रुपये का भुगतान भी कर दिया। भ्रष्टाचार की पुष्टि होने के बाद डीपीआरओ ब्रह्मचारी दूबे ने सेक्रेटरी महेंद्र प्रताप को निलंबित करते हुए विभागीय कार्यवाही के लिए अपर जिला पंचायत राज अधिकारी को जांच सौंप दी है। गांवों में स्ट्रीट लाइट लगाने के नाम पर जमकर खेल किया जा रहा है। कायदे से जांच कराई जाए तो भ्रष्ट्राचार से जुड़े कई और मामले सामने आ सकते हैं।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Back to top button