fbpx
Uncategorizedक्राइमचंदौली

लापरवाही पर हटाए गए बलुआ एसओ, उच्चाधिकारियों को नहीं दी अपहरण की सूचना

चंदौली। गाजीपुर व चंदौली के मध्य गंगा पुल पर हिंगुतरगढ़ निवासी मेघश्याम के अपहरण की सूचना देने में लापरवाही पर पुलिस अधीक्षक अंकुर अग्रवाल ने बलुआ एसओ मिथिलेश तिवारी को हटा दिया है। उन्हें क्राइम ब्रांच भेज दिया गया है। उनके स्थान पर स्वाट टीम प्रभारी राजीव सिंह को बलुआ थाने की कमान सौंपी गई है। बता दें कि एसपी ने इसी मामले में मारूफपुर चौकी प्रभारी शिवमणि त्रिपाठी को निलंबित कर दिया है। कप्तान के सख्त रूख से मातहतों में खलबली मची है।

 

धानापुर थाना के हिगुतरगढ़ गांव निवासी मेघश्याम सिपाही के पद पर संतकबीरनगर में तैनात बेटी को ट्रेन पकड़ाने के लिए गाजीपुर के औड़िहार रेलवे स्टेशन पर छोड़ने गए थे। उसे ट्रेन पकड़ाने के बाद बाइक से वापस घर लौट रहे थे। चार पहिया में सवार छह अपहरर्ताओं ने गंगा नदी पर बने रामकरन सेतु पर उन्हें अगवा कर लिया था। स्जवनों को उन्हीं के फोन से अपहरण की सूचना देते हुए 25 लाख रुपये फिरौती मांगी थी। गाजीपुर पुलिस ने आरोपितों को 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर मेघश्याम को सकुशल बरामद कर लिया। गाजीपुर में अपहरण के बाद स्थानीय पुलिस ने चौकी प्रभारी को सूचना दी थी, लेकिन चौकी प्रभारी की ओर से इसकी सूचना उच्चाधिकारियों को नहीं दी गई। जानकारी होने पर कप्तान ने चौकी प्रभारी को निलंबित कर दिया। साथ ही बलुआ एसओ को हटाकर क्राइम ब्रांच भेज दिया। स्वाट टीम प्रभारी राजीव सिंह को बलुआ का थाना प्रभारी बनाया गया है।

Related Articles

Back to top button