fbpx
क्राइमभदोही

पूर्व विधायक विजय मिश्रा के पेट्रोल पंप से मिला हथियारों का जखीरा, AK-47 राइफल, 9MM पिस्टल व कारतूस बरामद, बेटे विष्णु की निशानदेही पर हुई बरामदगी

भदोही। पूर्व विधायक विजय मिश्रा के गोपीगंज कोतवाली के अमवा स्थित पेट्रोल पंप पर हथियारों का जखीरा मिला है। पुलिस ने गुरुवार को एक AK-47 राइफल, चार मैगजीन, 375 कारतूस, 9MM पिस्टल और पिस्टल के नौ कारतूस बरामद किए। पूर्व विधायक के बेटे विष्णु की निशानदेही पर पुलिस को कामयाबी हाथ लगी है।

सामूहिक दुष्कर्म व संपत्ति हड़पने के मामले में पूर्व विधायक का बेटा विष्णु मिश्र फरार चल रहा था। उसके ऊपर एक लाख का ईनाम घोषित किया गया था। एसटीएफ की टीम ने उसे पिछले दिनों महाराष्ट्र के पुणे से गिरफ्तार किया। भदोही एसपी डा. अनिल कुमार ने बताया कि आरोपित विष्णु को रिमांड पर लेकर पूछताछ की गई। उसके बताए गए ठिकानों पर छापेमारी की गई। अमवा पेट्रोल पंप से AK-47 राइफल, – AK-47 की चार मैगजीन, 375 कारतूस, 9MM पिस्टल और पिस्टल के नौ कारतूस बरामद किए गए। एसपी ने कहा कि पूर्व विधायक के पास इतने सारे प्रतिबंधित हथियार कहां से आए, इसकी जांच की जा रही है। बताया कि विजय मिश्रा गैंग व मुख्तार अंसारी गैंग के गहरे ताल्लुकात रहे हैं। दोनों गैंग की ओर से अंजाम दी गई हत्या की कई घटनाओं में इस तरह के हथियारों का इस्तेमाल सामने आया था। इन सभी बिंदुओं की छानबीन की जा रही है। पेट्रोल पंप विजय मिश्रा अथवा उनकी पत्नी के नाम पर है। रिश्तेदार की देखरेख में संचालित होता है, जो इस समय जेल में बंद है। सामूहिक दुष्कर्म और रिश्तेदार की संपत्ति हड़पने के मामले में पूर्व विधायक विजय मिश्र, नाती विकास मिश्र, भतीजा मनीष मिश्र पहले से ही जेल में बंद हैं। बेटे विष्णु की भी गिरफ्तारी हो चुकी है। पुलिस सूत्रों की मानें तो पेट्रोल पंप से हथियारों का जखीरा बरामद होने से पूर्व विधायक व उनके परिजनों की मुश्किलें और बढ़ेंगी।

Related Articles

Back to top button