fbpx
चंदौलीराजनीतिराज्य/जिला

… तो इस तरह दूर हुई पूर्व सांसद रामकिशुन यादव की नाराजगी, सपा प्रत्याशियों ने ली राहत की सांस

चंदौली। मुगलसराय विधान सभा से टिकट नहीं मिलने पर पूर्व सांसद और दिग्गज सपा नेता रामकिशुन यादव काफी आहत थे। समाजवादी युवजन सभा के जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर यादव को तरजीह देते हुए पार्टी ने उन्हें टिकट पकड़ा दिया। राजनीतिक गलियारे में चर्चा उठी कि रामकिशुन निर्दल नामांकन कर सकते हैं। इस खबर से सपा खेमे में खलबली मच गई। रामकिशुन के बागी होने का मतलब चारों विधान सभाओं पर प्रभाव पड़ना तय था। हालांकि खुद पूर्व सांसद ने स्वीकार नहीं किया कि वह निर्दल पर्चा भरेंगे लेकिन साफ तौर पर इससे इंकार भी नहीं किया। जानकारी होते ही सकलडीहा विधायक प्रभुनारायण यादव, पूर्व विधायक मनोज सिंह आदि पूर्व सांसद से मिले। रामकिशुन यादव ने सभी को आश्वस्त किया कि वे पार्टी प्रत्याशियों का समर्थन करेंगे और कदम से कदम मिलाकर चलेंगे।

बौरी हाउस पर हुआ था पूर्व सांसद समर्थकों का जमावड़ा
नामांकन प्रक्रिया के आखिरी दिन गुरुवार को रामकिशुन यादव के बौरी स्थित आवास पर समर्थकों के जुटने का सिलसिला सुबह ही शुरू हो गया। पांच सौ से अधिक क्षेत्रीय नेता और समर्थक इकट्ठा हो गए। इसके बाद कयासों को और बल मिल गया। जानकारी होते ही सपा खेमे में हलचल मच गई। सकलडीहा विधायक प्रभुनारायण यादव सहित तमाम नेता मुगलसराय पहुंचे। वार्ता के बाद पूर्व सांसद ने सभी को आश्वस्त किया। इसके बाद सपा उम्मीदवार चंद्रशेखर यादव के नामांकन में शामिल भी हुए। नामांकन का समय बीतने के बाद सपा नेताओं ने राहत की सांस ली।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Back to top button