fbpx
चंदौलीराज्य/जिला

चंदौली के इस सरकारी हेल्थ सेंटर में कुत्ते फरमाते हैं आराम, डाक्टर गायब, मरीज परेशान

चंदौली। सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहतरी को किए जा रहे सरकारी और प्रशासनिक इंतजाम नाकाफी साबित हो रहे हैं। दरअसल कुछ चिकित्सक लापरवाही की हद से गुजर जा रहे हैं। अस्पताल मनमाने ढंग से चल रहे हैं। शासन की किरकिरी हो रही है और मरीजों को परेशानी। चंदौली जिले के बरहनी ब्लाक का हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पई ऐसे ही बदहाल केंद्रों में शामिल हैं। यहां डाक्टर गायब रहते हैं और कुत्ते आराम फरमाते हैं। सीएमओ का कहना है कि वहां नियुक्त चिकित्सक से स्पष्टीकरण लिया जाएगा। उन्होंने एडिशनल सीएमओ को तत्काल मौके पर पहुंचकर वस्तुस्थिति से अवगत कराने का भी निर्देश दिया।

सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों में तैनात चिकित्सकों की लापरवाही से निजी अस्पताल न सिर्फ फल फूल रहे हैं बल्कि गरीब वर्ग के लोगों को बकायदा लूट भी रहे हैं। बरहनी ब्लाक में कंदवा थाने से सटे हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पई संसाधनों और चिकित्सकों के अभाव में शो पीस बनकर रह गया है। यहां जो स्वास्थ्य कर्मी और चिकित्सक नियुक्त हैं वे लापरवाही से बाज नहीं आ रहे। बुधवार को स्वास्थ्य केंद्र में जो नजारा दिखा वह हैरान कर देने वाला था। अस्पताल का चैनल बंद था और भीतर एक भी कर्मचारी मौजूद नहीं था। अलबत्ता एक कुत्ता जरूर आराम फरमा रहा था और अस्पताल के सभी पंखे चल रहे थे। लोगों ने बताया कि यहां चिकित्सक मनमाने ढंग से आते हैं। बहरहाल इस बाबत सीएमओ डा. वीपी द्विवेदी का कहना है कि यदि मामला सही है तो यह चिकित्सकों की लापरवाही है। सेंटर में नियुक्त डा. राजेश कुमार से स्पष्टीकरण लिया जाएगा। एडिशनल सीएमओ को पैनी नजर रखने के साथ ही मामले की जांच कर अवगत कराने का निर्देश दिया।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!