fbpx
चंदौलीराजनीतिराज्य/जिला

चंदौलीः सपा प्रवक्ता ने ट्विटर पर डाला सीएम योगी की चंदौली में हुई सभा से जुड़ा फर्जी वीडियो, किरकिरी होने पर मानी गलती

चंदौली। सपा के प्रवक्ता मनोज सिंह काका ने न सिर्फ खुद की बलिक पार्टी की भी किरकिरी करा दी। उन्होंने अपने ट्विटर एकाउंट पर सीएम योगी आदित्यनाथ की सभा से जुड़ा फर्जी वीडियो पोस्ट कर दिया, जिसमें कुछ लोग आरोप लगा रहे हैं कि सभा में आने के लिए उन्हें पैसे का लालच दिया गया था लेकिन पैसे भी नहीं मिले। इसपर जब टोका-टाकी शुरू हुई और लोगों ने शिकायत की तो मनोज काका ने अपनी गलती स्वीकार करते हुए दूसरा पोस्ट डाला जिसमें खुद माना कि यह वीडियो कानपुर का है।

गलत पोस्ट ने कराई सपा प्रवक्ता की किरकिरी
खबरों में बने रहने के लिए नेता बगैर सोचे-समझे क्या कुछ कर गुजरते हैं इसकी एक बानगी सोशल मीडिया पर देखने को मिली। सपा के प्रवक्ता मनोज सिंह ने अपने आधिकारिक ट्विटर एकाउंट पर एक वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा कि हमारे जनपद चंदौली में योगी जी की सभा के लिए भाड़े पर लोग बुलाए गए थे। योगी जी झूठ बोलने लगे तो लोग चलते बने और कहा कि पैसा भी नहीं मिला। दरअसल यह वीडियो चंदौली का था ही नहीं। इसपर सपा प्रवक्ता की खूब किरकिरी हुई और सीएम की आलोचना की बजाए खुद ट्रोल हो गए। हालांकि बाद में उन्होंने अगला पोस्ट डालते हुए अपनी गलती मानी और लिखा कि वीडियो कानपुर में हुई योगी जी की सभा का है।

भाजपा नेताओं ने कसा तंज, बोले मानसिक कुंठा
सपा प्रवक्ता के सीएम को लेकर भ्रामक पोस्ट डालने पर बीजेपी के जिलाध्यक्ष अभिमन्यु सिंह का कहना है कि यह पूरी तरह से सपा प्रवक्ता की मानसिक कुंठा का सबूत है। जिले को मेडिकल कालेज जैसी सौगात मिली इस बातपर खुश होने की बजाए सपाई अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे हैं। मेडिकल कालेज चंदौली की जनता के लिए बन रहा है न कि भाजपा के लिए। यदि यही काम अपने कार्यकाल में मुलायम सिंह यादव या अखिलेश यादव ने किया होता तो हम उनका स्वागत करते।
पूर्व जिलाध्यक्ष राणा प्रताप सिंह का कहना है कि जिस पार्टी का मुखिया ही गुमराह हो उसके प्रवक्ता से और क्या उम्मीद की जा सकती है। यह पूरी तरह से मानसिक दीवालियापन है।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!