fbpx
ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

प्राचार्य, सीओ, सकलडीहा इंस्पेक्टर के खिलाफ कार्रवाई से कम अभाविप को मंजूर नहीं, टकराव बढ़ा

चंदौली। सकलडीहा डिग्री कालेज के प्राचार्य और चीफ प्रॉक्टर पर बदसलूकी और मारपीट का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग को लेकर धरनारत अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का धरना शनिवार को तीसरे दिन भी जारी रहा। प्राचार्य के साथ ही सीओ और कोतवाल के खिलाफ कार्रवाई से कम कुछ भी अभाविप से जुड़े छात्रों को मंजूर नहीं है। पुलिस अधिकारियों से नाराजगी इस बात को लेकर है कि उन्होंने महाविद्यालय प्रबंधन का पक्ष लिया और छात्रों का उत्पीड़न किया गया। बहरहाल छात्रों और महाविद्यालय प्रबंधन के बीच टकराव की आशंका गहराती जा रही है।


अभाविप कार्यकर्ताओं का आरोप है कि कालेज प्रशासन दूसरे छात्र गुटों के साथ मिलकर आए दिन छात्रों के साथ दुर्व्यवहार करता रहता है। शिक्षक और छात्रों का एक गुट है जो कालेज प्रशासन के साथ-साथ अभाविप कार्यकर्ताओं के साथ आए दिन विवाद करने को उतारू रहता है। काशी हिंदू विश्वविद्यालय के छात्र नेता अजीत कुमार सिंह, व्यापार मंडल के नेता सत्य प्रकाश गुप्ता और भाजपा चिकित्सा प्रकोष्ठ के जिला संयोजक डा. केएन पांडेय ने आंदोलन का समर्थन किया। डा. केएन पांडेय ने इस मामले को जिले के सांसद और केंद्रीय मंत्री डा. महेंद्र नाथ पांडेय तक पहुंचाने की बात कही। जबकि धरनारत छात्रों ने प्रचार्य के सहित सकलडीहा क्षेत्राधिकारी और कोतवाल के खिलाफ कार्रवाई तक आंदोलन जारी रखने की चेतावनी दी। वहीं दूसरी तरफ कालेज के प्राचार्य प्रमोद कुमार सिंह ने बताया कि कालेज प्रशासन पर लगे आरोप बेबुनियाद हैं। परिचय पत्र चेक करने का मकसद यह था कि कोई बाहरी शरारती तत्व विद्यालय कैंपस में ना प्रवेश करे। छात्रों और कॉलेज प्रशासन के विवाद को सुलझाने के लिए एसडीएम द्वारा किया गया प्रयास भी विफल रहा। धरना देने वालों में युवा संघर्ष मोर्चा जिलाध्यक्ष अमित तिवारी, राहुल सिंह, रिंकू तिवारी, मोनू पांडेय, मनोज गिरी, रितेश तिवारी, विकास राय, मोहित तिवारी, शैलेंद्र पांडेय, अवधेश तिवारी संपूर्ण पांडेय, तौफीक अहमद, निखिल राज, रितेश खरवार आदि शामिल रहे।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button