fbpx
क्राइमचंदौलीराज्य/जिला

चंदौली में सदमे से चली गई किसान की जान, ये थी वजह


चंदौली। फसल में किसान की जान बसती है। धीना थाना के करजरा गांव निवासी 60 वर्षीय किसान रामदयाल की खलिहाल में रखी धान की फसल जली तो सदमा बर्दाश्त नहीं कर सके। बुधवार की देर रात उनकी मौत हो गयी। घटना से परिवार में कोहराम मच गया।
रामदयाल यादव के खलिहान में रखा छह बीघा धान के फसल का बोझ सात दिसंबर को अज्ञात कारणों से आग लग जाने जल गया। साल भर की पूंजी को राख के ढेर में बदलता देख किसान रामदयाल इस कदर दुखी हुए कि बुधवार की देर रात सीने में दर्द शुरू हो गया। परिजन इलाज को रात में ही धानापुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए चिकित्सको ने जिला अस्पताल को रेफर कर दिया। जिला अस्पताल पहंुचते ही किसान की मौत हो गई। किसान के मरने की खबर पाकर गांव में कोहराम मच गया। गुरुवार को गुरैनी गांव स्थित गंगा नदी में अंतिम संस्कार कर दिया गया। गांव के संभ्रांत लोगों का कहना है कि जिला प्रशासन इसे गंभीरता से लेते हुए मृतक के परिवार को मुआवजा दिलाए।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!