fbpx
क्राइमराज्य/जिलावाराणसी

चंदौली के शिक्षक ने बनाया था पीएम का संसदीय कार्यालय बेचने का प्लान, चार गिरफ्तार

वाराणसी। पीएम के संसदीय कार्यालय की फोटो बिक्री के लिए आनलाइन एप ओएलएक्स पर डालकर सनसनी फैलाने वाले चार आरोपितों को वाराणसी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मास्टरमाइंड लक्ष्मीकांत ओझा आशुतोष इंग्लिश स्कूल सरने नियामताबाद थाना अलीनगर और दिव्यांगों के स्कूल में शिक्षक और पीएचडी होल्डर है। पकड़े गए आरोपितों ने चाय की दुकान पर चाय पीते हुए इस योजना को अमलीजामा पहनाने का प्लान बना डाला। मुख्य आरोपित के मोबाइल नंबर को सर्विलांस पर लगाकर पुलिस ने इस मामले का पर्दाफाश किया।
पिछले दिनों वाणिज्यिक वेबसाइट पर पीएम के संसदीय कार्यालय को बेचने का विज्ञापन जारी होने के बाद पुलिस और प्रशासनिक अमले में खलबली मच गई। पीएमओ की कीमत साढ़े सात करोड़ रुपये निर्धारित की गई थी। मुख्य आरोपित लक्ष्मीकांत ओझा ने ही इसे पोस्ट किया था। हालांकि एसएसपी अमित पाठक ने तत्काल ही इस विज्ञापन को साइट से हटवा दिया। बकौल एसएसपी अमित पाठक आरोपितों से पूछताछ की जा रही है इसी के आधार पर आगे की कार्यवाही ही जाएगी। मुख्य आरोपित लक्ष्मीकांत ओझा ने बताया कि कमीशन के लिए ओएलएक्स पर विज्ञापन डाला था। इससे बच्चों के लिए स्कूल बस लेना चाहता था। अन्य आरोपितों में मनोज यादव गांधी चाौक खोजवा में दूध-दही की दुकान चलाता है। बाबूलाल पटेल बिजली मिस्त्री है। जितेंद्र कुमार वर्मा गुरुधाम कालोनी स्थित बैंक आफ बड़ौदा के सामने चाय की दुकान चलाता है।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button