क्राइमचंदौलीराज्य/जिला

चंदौलीः धर्म परिवर्तन कर शादी कराने की हो रही थी तैयारी दूल्हा, दुल्हन, बारातियों को उठा ले गई पुलिस

चंदौली। जिले में धर्मांतरण के एक के बाद एक मामले सामने आ रहे हैं। गुरुवार को चकिया कस्बा स्थित मां काली मंदिर पोखरा परिसर में गुरुवार को ऐसा ही मामला सामने आया। युवती का धर्म परिवर्तन कर शादी कराने की तैयारी चल रही थी। दूल्हा बने युवक के परिजन कचहरी में जरूरी कागजात बनवाने गए हुए थे। युवक और युवती का समुदाय अलग होने पर अधिवक्ताओं को शक हुआ तो तत्काल पुलिस को सूचना दी। मामले पर धर्मांतरण कर शादी करने का शक हुआ अधिवक्ताओं ने तो कागज बनाकर दे दिया। और दूसरी तरफ स्थानीय पुलिस को सूचना दे दी। चकिया पुलिस दूल्हा, दुल्हन और बारातियों को कोतवाली ले आई। युवती के पिता ने मिर्जापुर जनपद के जमालपुर थाने में युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। जमालपुर पुलिस ने युवक को विभिन्न धाराओं में जेल भेज दिया।
मिर्जापुर जिले के जमालपुर थाना क्षेत्र के पसही डवक निवासी हिंदू वर्ग की लड़की को लेकर बलुआ थाना क्षेत्र के टांडाकला निवासी इजहार अहमद चकिया कस्बा के मां काली मंदिर परिसर में पहुंचा। युवक के परिवार के अन्य सदस्य भी मौजूद थे। आरोप है कि युवती का धर्म परिवर्तन कर कोर्ट मैरिज कराने की योजना थी। परिजन कचहरी में कागजात तैयार कराने पहुंचे। दूल्हा और दुल्हन के अलग-अलग समुदाय से होने पर अधिवक्ताओं को कुछ संदेह हुआ। वकीलों के कागजात बनाकर तो दे दिया लेकिन पुलिस को पूरे मामले की जानकारी भी दे दी। वरिष्ठ उप निरीक्षक राजकुमार शुक्ला मौके पर पहुंचे और दूल्हा-दुल्हन सहित परिजनों को हिरासत में ले लिया। जमालपुर पुलिस को सूचित कर दिया गया। थोड़ी ही दूर में मिर्जापुर जिले की पुलिस मौके पर पहुंच गई। युवती के पिता ने युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा रखा था, जिसके आधार पर पुलिस ने उसे जेल भेज दिया। कोतवाली प्रभारी राजेश यादव ने बताया कि युवती मिर्जापुर के जमालपुर थाना क्षेत्र की थी जबकि युवक जिले के ही बलुआ क्षेत्र का था। जमालपुर थाने में युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज है। दोनों को मिर्जापुर पुलिस को सुपुर्द कर दिया गया। धारा 363, 366 आईपीसी व पॉक्सो एक्ट के तहत युवक को जेल भेज दिया गया।

Back to top button
error: Content is protected !!