fbpx
ख़बरेंचंदौली

Chandauli News : चंदौली में आकाशीय बिजली का कहर, चार की मौत, एक दर्जन झुलसे

आकाशीय बिजली की चपेट में आने से दो चचेरे भाइयों की मौत, किसान की गई जान घायलों को जिला अस्पताल में कराया गया भर्ती, चल रहा इलाज बारिश के दौरान आकाशीय बिजली की गरज-चमक से सहमे रहे लोग

चंदौली, आकाशीय बिजली, तीन की मौत, मुगलसराय
  • आकाशीय बिजली की चपेट में आने से दो चचेरे भाइयों की मौत, किसान की गई जान घायलों को जिला अस्पताल में कराया गया भर्ती, चल रहा इलाज बारिश के दौरान आकाशीय बिजली की गरज-चमक से सहमे रहे लोग
  • आकाशीय बिजली की चपेट में आने से दो चचेरे भाइयों की मौत, किसान की गई जान
  • घायलों को जिला अस्पताल में कराया गया भर्ती, चल रहा इलाज
  • बारिश के दौरान आकाशीय बिजली की गरज-चमक से सहमे रहे लोग

 

चंदौली। बारिश के दौरान बुधवार की शाम आकाशीय बिजली का प्रकोप रहा। इसकी चपेट में आने से तीन लोगों की जान चली गई। वहीं आधा दर्जन लोग झुलस गए। घायलों का इलाज जिला अस्पताल में कराया जा रहा है। सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सपा नेताओं ने मौके पर पहुंचकर घायलों का हाल जाना। वहीं शोक संतप्त परिजनों को भी ढांढस बंधाया। घटना के बाद परिजनों में कोहराम मच गया है।

 

बुधवार की शाम बारिश के साथ आकाशीय बिजली ने खूब तांडव मचाया। इसकी चपेट में आने से मुगलसराय के बरईपुर भूपौली गांव निवासी दो चचेरे भाइयों चिंटू यादव (15 वर्ष) और अंकित यादव (19 वर्ष) की मौत हो गई। वहीं भिसौड़ी गांव के सिवान में पशुओं को चरा रहे किसान मोती यादव (55 वर्ष) की भी जान चली गई। इसके अलावा भिसौड़ी गांव निवासी बाढू यादव आकाशीय बिजली की चपेट में आने से गंभीर रूप से झुलस गए। वहीं अदसड़ गांव में पांच लोग भी घायल हो गए। दूसरी तरफ कोदई गांव निवासी मुनीब बिंद 55 गांव के बाहर खेत में मेढबंदी कर रहे थे उसी दौरान आकाशीय बिजली उनके करीब गिरी। जिससे वह झुलस गए और अचेत होकर खेत में गिर गए। बारिश बंद होने के बाद जब परिजन खेत पर पहुंचे तो उन्हें खेत में गिरा देख उठाकर जमानिया स्थित एक निजी अस्पताल ले गए जहां चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। सिसौरा गांव में बिजली की चपेट में आने से जित्तन चौहान 55 और प्रिंयका 26 भी झुलस गए।जिनका इलाज निजी अस्पताल में चल रहा है।

 

घटना की सूचना के बाद पूर्व विधायक व सपा नेता मनोज सिंह डब्लू ने जिला अस्पताल पहुंचकर घायलों का हाल जाना। वहीं पूर्व प्रमुख बाबूलाल यादव ने भिसौड़ी गांव में मृतक के शोक संतप्त परिजनों से मुलाकात कर ढांढस बंधाया।

Back to top button
error: Content is protected !!