fbpx
ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

नगर पालिका ने कसी ठेकेदार की नकेल, नोटिस जारी, भुगतान पर रोक

चंदौली। सत्ता का संरक्षण प्राप्त कर योगी सरकार की जीरो टालरेंस नीति की बखिया उधेड़ने वाले ठेकेदार पर नगर पालिका ने आखिरकार नकेल कस दी है। मुगलसराय के वार्ड संख्या दो, सात और आठ में कराए जा रहे रोड पेंटिंग कार्य की गुणवत्ता बेहद खराब मिलने पर चेयरमैन संतोष खरवार के निर्देश पर पालिका ने ठेकेदार पुष्पा सिंह को नोटिस जारी करने के साथ ही भुगतान पर रोक लगा दी है। नोटिस में साफ लिखा है कि कार्य मानक के अनुरूप नहीं है। सभासद और स्थानीय लोग शिकायत कर रहे हैं जो अत्यंत खेदजनक है। इससे पालिका प्रशासन की छवि धूमिल हो रही है। कार्य में सुधार नहीं होने तक भुगतान नहीं किया जाएगा। बतादें कि ठेकेदार पुष्पा सिंह के पति भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष रह चुके हैं और वर्तमान में भाजपा किसान मोर्चा में अहम पद पर आसीन हैं। पूर्वांचल टाइम्स ने भ्रष्टाचार के खुले खेल को उजागर किया था जिसके बाद पालिका प्रशासन हरकत में आया। चेयरमैन ने खुद निर्माण कार्य का जायजा लिया और कार्य की बेहद खराब गुणवत्ता को देख दंग रह गए।

जिनके कंधों पर सरकार की छवि को बनाए रखने की जिम्मेदारी है दरअसल वह खुद भ्रष्टाचार के वाहक बने हुए हैं। इसकी एक बानगी भर नगर पालिका परिषद पीडीडीयू नगर की ओर से कराए जा रहे सड़क पेंटिंग कार्य में देखने को मिली। वार्ड नंबर दो साठ और आठ में तकरीबन दो किमी लंबाई की सड़क को सुधारने का काम चल रहा है। काम की गुणवत्ता इतनी खराब है कि सड़क एक तरफ से बन रही है और दूसरी तरह से उखड़ रही हैै। कुछ सभासदों ने इसका विेरोध किया और कार्य को रोकवा दिया। कुछ सभासद ठेकेदार के रसूख के आगे खुल कर मुखालफत करने की हिम्मत नहीं जुटा सके। लेकिन अंदर ही अंदर वह भी कार्य से संतुष्ट नहीं थे। बहरहाल भ्रष्टाचार की गंध जब पालिका अध्यक्ष संतोष खरवार की नाक तक पहुंची तो उन्होंने खुद निरीक्षण किया। कार्य की गुणवत्ता शिकायतों से अधिक खराब थी। पेंटिंग से पहले प्रेशर मशीन से डस्ट की सफाई नहीं कराई गई थी, बिटुमिन और प्राइम कोट की मात्रा कम पाई गई तो कैंबर भी नहीं दिया जा रहा था। लिहाजा चेयरमैन ने ठेकेदार पुष्पा सिंह को कड़ा पत्र जारी करने के साथ ही भुगतान पर रोक लगाने का निर्देश दिया।


अच्छा काम नहीं तो भुगतान भी नहीं
चेयरमैन संतोष खरवार ने पूर्वांचल टाइम्स को बताया कि मैने खुद निरीक्षण किया और पाया कि रोड पेंटिग कार्य की गुणवत्ता बेहद खराब है। सभासद और स्थानीय लोग शिकायत कर रहे हैं जिससे पालिका की छवि धूमिल हुई है। ठेकेदार को नोटिस जारी करने के साथ ही भुगतान पर रोक लगा दी गई है। जब तक कार्य में सुधार नहीं किया जाएगा और सभासद संतुष्ट नहीं होंगे भुगतान नहीं होगा। ठेकेदार कोई भी हो इससे फर्क नहीं पड़ता। भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!