fbpx
ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

डाक ऑनलाइन ई प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर बुनियादी सुविधाएं नदारद, मरीज हलकान, अफसर नहीं ले रहे सुधि

REPORTER: फरीदुद्दीन फरीद

चंदौली। कमालपुर कस्बा स्थित डाक आनलाइन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में बुनियादी सुविधाओं का टोटा है। 25 बेड के अस्पताल तक जाने के लिए सड़क नहीं, पानी टंकी का निर्माण अधूरा है। इसके अलावा अन्य कई तरह की दुर्व्यवस्थाएं हैं। ऐसे में मरीजों को बेहतर चिकित्सा सुविधा नहीं मिल पा रही। वहीं अस्पताल में नियुक्त कर्मियों को भी परेशानी झेलनी पड़ रही। स्थानीय लोगों ने सरकार का ध्यान आकृष्ट कराते हुए कमियों को पूरा कराने की मांग की है। ताकि लोगों को अच्छी स्वास्थ्य सेवा का लाभ मिल सके।

सपा के शासनकाल में ग्रामीण इलाके में टेलीमेडिसिन चिकित्सा पद्धति को बढ़ावा देने और बेहतर इलाज मुहैया कराने के उद्देश्य से अस्पताल का निर्माण कराया गया था। भवन बनकर तैयार हो गया था। वहीं मेडिकल स्टाफ की भी नियुक्ति कर दी गई। यहां कोई चिकित्सक नियुक्त नहीं है, बल्कि मेडिकल स्टाफ ही टेली मेडिसिन प्रक्रिया के तहत मरीजों को देश के बड़े-बड़े अस्पतालों के विशेषज्ञ चिकित्सकों से मुखातिब कराते हैं। उन चिकित्सकों की सलाह पर मरीजों को दवा दी जाती है। वहीं भर्ती कर इलाज भी किया जाता है। हालांकि, अस्पताल में बुनियादी सुविधाओं के अभाव के चलते लोगों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है। अस्पताल तक जाने के लिए मुख्य सड़क नहीं बनी है। वहीं पानी टंकी भी नहीं बनी है। फार्मासिस्ट प्रकाश श्रीवास्तव ने बताया अस्पताल टेंडर प्रक्रिया के तहत संचालित होता है। यहां तीन कर्मी नियुक्त हैं। फार्मासिस्ट, एएनएम, लैब टेक्नीशियन की तैनाती की गई है। एक जीएनएम और टीबी जांच कर्ता भी नियुक्त हैं। मरीज वीडियो कांफ्रेंसिंग व आनलाइन तरीके से देश के नामी चिकित्सा संस्थानों के चिकित्सकों से बातकर अपनी समस्याएं बताते हैं। उन्हीं चिकित्सकों की सलाह पर मरीजों का उपचार किया जाता है। बताया कि अस्पताल परिसर की बाउंड्री नहीं है। इसके चलते कस्बावासी कूड़ा लाकर अस्पताल के पास फेंककर चले जाते हैं। इससे चारों तरफ गंदगी फैली रहती है। अस्पताल में लगी पानी की मोटर भी खराब हो गई है। इससे पेयजल की किल्लत पैदा हो गई है। लोगों ने तत्काल अस्पताल में जरूरी इंतजाम कराने की मांग की है।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!