fbpx
क्राइमचंदौली

अवैध असलहे की तस्करी में मुंशी की गई जान, साथियों ने ही ईंट से सिर कूंच कर दी हत्या

चंदौली : अवैध असलहे की तस्करी में बलुआ निवासी हिस्ट्रीशीटर मुंशी सोनकर की जान गई। पैसे के लेनदेन में हुए विवाद से नाराज साथियों ने ईंट से सिर कूंच कर हत्या कर दी थी। पुलिस ने सैदपुर पुल के समीप आरोपित वाराणसी के चौबेपुर थानाक्षेत्र के रमोला गांव निवासी विकास यादव को रविवार की रात गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से मृतक की चेन, ब्रेजा कार की चाबी मिली। उसकी निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त ईंट भी बरामद कर लिया गया। एएसपी प्रेमचंद ने सोमवार को पुलिस लाइन सभागार में घटना के बाबत जानकारी दी। बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी सिर कूंच कर हत्या किया जाने के साक्ष्य मिले हैं।
अभियुक्त ने बताया कि मुंशी के साथ अवैध असलहा की तस्करी करता था। वह बकाया पैसे लेने के लिए कई बार मारता-पिटता था। इस पर वाराणसी के रोहनियां निवासी मुलायम यादव, रोहित यादव व जौनपुर के भिक्खू यादव के साथ मिलकर उसके हत्या की योजना बनाई। मुलायम की मोबाइल से मुंशी को फोनकर तमंचा खरीदने का लालच दिया। मुंशी ने अलगे दिन सुबह घर पर बुलाया था। रोहित के साथ बाइक से मुंशी के घर पहुंचे। उसे मोबाइल में पिस्टल की फोटो दिखाई और 25 हजार में सौदा तय हुआ। इसके बाद गंदा नदी के पास मिठाई की दुकान पर बाइक खड़ा कर मुंशी की ब्रेजा कार से बलुआ स्थित बैंक आफ बड़ौदा एटीएम पहुंचे। यहां रोहित ने एटीएम से दस हजार रुपये निकाले। इसके बाद शराब खरीदा और गंगा पार पोल्ट्री फार्म में पहुंचे। यहां मुलायम और भिक्खू पहले से ही मौजूद थे। पांचों ने यहीं बैठकर एक साथ शराब पी। मुंशी थोड़ी देर बाद उठकर जाने लगा तो चारों उस पर टूट पड़े और लात-घूसों से जमकर पिटाई की। इसके बाद कमरे में बंद कर दिया। उसे अचेत करने के लिए इंजेक्शन भी लगाया लेकिन वह बेहोश नहीं हुआ। इसके बाद हाथ-पैर बांधकर मुंशी को उसकी कार की डिक्की में लाद दिया। कार से लेकर मारुफपुर होते हुए पलिया पहुंचे। यहां गांव के मैदान में कार खड़ी कर मुंशी को बाहर निकाला और मुलायम ने ईंट से मुंशी के सिर पर कई वार किया। इसके बाद उसके शरीर पर तीन-चार बार ब्रेजा कार चढ़ी दी। जब उसकी मौत हो गई तो फरार हो गए।

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!