fbpx
ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

20 वर्ष से दुश्वारियों में जी रहे चंदौली के इस गांव के लोग, कच्चा रास्ता बना नियति

खुशी सोनी की रिपोर्ट

चंदौली। गांवों को शहरों के समकक्ष खड़ा करने की कवायदों के बीच यह पता चले कि गांव का मुख्य मार्ग 15 वर्ष से कच्चा और बदहाल है तो फिर चाौंकना लाजिमी हो जाता है। लेकिन नियामताबाद विकास खंड के महदेवल गांव की तस्वीर इन दिनों कुछ ऐसी ही है। कहने को तो यह गांव जिला मुख्यालय और पीडीडीयू नगर के मध्य पड़ता है लेकिन नजर दौड़ाएं तो लगेगा कि यहां मुद्दतों से विकास नहीं हुआ।


महदेवल गांव की सबसे बड़ी समस्या गांव का मुख्य मार्ग ही है। रास्ता इतना खराब है कि बरसात हुई तो घर से निकलना मुश्किल हो जाता है। जब गांव के मार्ग का यह हाल है तो अन्य मूलभूत सुविधाओं का अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है। ग्रामीणों का कहना है कि तकरीबन 15 से 17 वर्ष पहले मार्ग बना था। एक बाद खराब हुआ तो होता ही चला गया। कितनी ही दफा ग्राम प्रधान के यहां शिकायत की गई लेकिन उनकी तरफ से कोई पहल नहीं की गई। ग्रामीण इस दुश्वारी को अपनी नियति मान चुके हैं और इस इंतजार में हैं कि शायद किसी अधिकारी या जनप्रतिनिधि की नजर पड़े और उन्हें इस समस्या से निजात मिले।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button