fbpx
चंदौलीराजनीतिराज्य/जिला

सपा विधायक गिरफ्तार, पूर्व सांसद व पूर्व विधायक हाउस अरेस्ट, पुलिस से नोंकझोक

चंदौली। प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों को दो दिन से सपाई छका रहे हैं। सोमवार को प्रदेशव्यापी किसान पदयात्रा को रोकने के लिए पुलिस को खासी मशक्कत करनी पड़ी। लेकिन महकमा अपने इस प्रयास में सफल नहीं हो सका। वहीं मंगलवार को भारत बंद के मद्देनजर आंदोलित सपाइयों को रोकने के लिए अधिकारी एक बार फिर पसीना बहाते नजर आए।


सकलडीहा से सपा विधायक प्रभु नारायण यादव ने जिलाध्यक्ष सत्यनारायण राजभर और सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने सकलडीहा में धरना दे दिया। पुलिस ने घेराबंदी कर कार्यकर्ताओं को आगे जाने नहीं दिया। लेकिन सपाई डंटे रहे और केंद्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। भाजपा सरकार को किसान विरोधी बताते हुए किसान संशोधन बिल को वापस लेने की मांग की। अंत में सपा विधायक प्रभुनारायण सिंह यादव और जिलाध्यक्ष सहित धरनारत कार्यकर्ताओं ने पुलिस ने गिरफ्तार कर दिया। वहीं पूर्व सांसद रामकिशुन को सुबह ही पुलिस ने उनके बौरी स्थित आवास पर नजरबंद कर दिया। पूर्व सांसद ने इसका विरोध किया और कहा कि प्रशासन उनकी आवाज को दबा नहीं सकता है। पूर्व सांसद को नजरबंद किए जाने की सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उनके आपास पर पहुंच गए। पूर्व सांसद पुलिस को चुनौती देते हुए कार्यकर्ताओं के साथ पैदल ही घर से निकल गए। इस दौरान पुलिस से नोंकझोक भी हुई।

इसी तरह पूर्व विधायक और सपा के राष्ट्रीय सचिव मनोज सिंह डब्लू को भी माधवपुर स्थिति उनके आवास पर पुलिस ने हाउस अरेस्ट कर लिया। मनोज सिंह ने भी पुलिस और प्रशासन की इस कार्रवाई का विरोध किया। कहा सपा किसानों के साथ है भाजपा सरकार की मनमानी नहीं चलने दी जाएगी। सपाई तानाशाह सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे। एसडीएम और सीओ सकलडीहा पूर्व विधायक के आवास पहुंचे और उनसे आंदोलन नहीं करने और प्रशासन का सहयोग करने की बात कही। लेकिन पूर्व विधायक के साफ कहा कि पुलिस के दम पर उनकी आवाज को दबा नहीं सकते हैं। आंदोेलन होगा और जब तक सरकार अपना किसान विरोधी निर्णय बदल नहीं देती तब तक जारी रहेगा।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button