fbpx
ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

सीएम ने दिया है आशीर्वाद, वही करेंगे न्याय, डायट प्राचार्य के खिलाफ पुलिसिया जांच शुरू

चंदौली। सकलडीहा डायट के पूर्व प्राचार्य की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं। अपने ही कर्मचारी पर वाराणसी में गाड़ी चढ़ाने और लोहे का राड लेकर भरे बाजार दौड़ाने के आरोपित प्राचार्य के खिलाफ पुलिसिया जांच शुरू हो गई है। स्थानांतरण के बाद गोरखपुर में नियुक्त डायट प्राचार्य के खिलाफ कार्रवाई की मांग भी जोर पकड़ने लगी है। प्रदेश के विभिन्न जनपदों में कर्मचारी एकजुट होकर आंदोलन कर रहे हैं। गोरखपुर में भी कर्मचारियों ने डायट प्राचार्य का विरोध करते हुए कार्रवाई की मांग की। जबकि मंगलवार को गाजीपुर में विरोध के स्वर उठे। कर्मचारी वरुणेंद्र तिवारी की पुत्री उत्कर्षिता ने सीएम और जिलाधिकारी से पिता की सुरक्षा की गुहार लगाई थी। महानिदेशक स्कूली शिक्षा को भी पत्र लिखकर मामले से अवगत करा दिया है। डायट प्राचार्य के खिलाफ विभागीय जांच भी शुरू हो गई है। बहरहाल उत्कर्षिता न्याय को लेकर आश्वस्त हैं। उनका कहना है कि विगत वाराणसी आए सीएम योगी आदित्यनाथ ने आशीर्वाद दिया था, वही मेरे साथ न्याय करेंगे।
ये है पूरा मामला
सकलडीहा डायट में नियुक्त वरिष्ठ लिपिक वरुणेंद्र तिवारी की पुत्री उत्कर्षिता ने विगत दिनों एक वीडियो जारी करते हुए अपने पिता की जांन की सुरक्षा की गुहार लगाई थी। आरोप लगाया कि डायट प्राचार्य ने पिता पर गाड़ी चढ़ाकर मारने का प्रयास किया और सफल नहीं हुए तो भरे बाजार राड लेकर दौड़ा लिया। पिता ने किसी तरह भागकर अपनी जान बचाई। पिता दहशत में हैं और कार्यालय नहीं जा पा रहे। घटना से पूरा परिवार सहमा हुआ है। वीडिया वायरल होते ही प्रदेश भर के डायट और शिक्षा विभाग से जुड़े कर्मचारी वरुणेंद्र तिवारी के समर्थन में उठ खड़े हुए हैं। जिलाधिकारी चंदौली के निर्देश पर मामले की पुलिसिया जांच भी शुरू कर दी गई है। डायट प्राचार्य के खिलाफ मुकदमा भी पंजीकृत किया जा सकता है। बकौल उत्कर्षिता महानिदेशक स्कूली शिक्षा ने भी मामले में विभागीय जांच के बाद कार्रवाई का भरोसा दिलाया है।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button