क्राइमराज्य/जिलावाराणसी

नटवरलाल दामाद ने सास के साथ मिलकर डाक्टर को लगाया डेढ़ करोड़ का चूना


वाराणसी। बनारस या आस-पास जमीन लेने की सोच रहे हैं तो अभिलेखों की गहन पड़ताल अवश्य कर लें। कहीें ऐसा न हो कि अच्छी जमीन के लालच में गाढ़ी कमाई चली जाए। वाराणसी में जालसाज काफी सक्रिय हैं। ऐसा ही एक मामला रविवार को प्रकाश में आया जब फूलपुर पुलिस ने आठ माह बाद जालसाजी के आरोपित को उसके घर से धर दबोचा।
आरोपित ने कूटरचित कागजात और नाम के सहारे डेढ़ करोड़ रुपये लेकर एक चिकित्सक को जमीन की फर्जी रजिस्ट्री कर दी थी। इंस्पेक्टर फूलपुर सनवर अली ने बताया कि जनवरी माह में सास व दामाद ने एक कूट रचित दस्तावेज के सहारे महमूरगंज निवासी चिकित्सक को वाराणसी. जौनपुर राजमार्ग स्थित कथौली में एक बीघा जमीन डेढ़ करोड़ रुपए में बेच कर रुपये ले लिए। जब चिकित्सक जमीन पर कब्जा लेने पहुंचे तो मामला प्रकाश में आया। पता चला कि जमीन तो दूसरे की है। पुलिस ने चिकित्सक की तहरीर पर महिला समेत तीन लोगों के खिलाफ धारा 419ए, 420ए, 467ए, 468 व 471 के तहत मुकदमा दर्ज किया था। रविवार को मुखबिर की सूचना के आधार पर एसआई धीरेंद्र सिंह ने आरोपित कमलेश पांडेय पुत्र रामलोचन पांडेय निवासी सभईपुर थाना शिवपुर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। हालांकि अभी भी दो आरोपी पुलिस की पकड से दूर हैं।

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!