क्राइमचंदौलीराज्य/जिला

चंदौली का रंगबाज युवक बन गया एक लाख का कुख्यात अपराधी, अजीत हत्याकांड में आया नाम

चंदौली। बलुआ थाना क्षेत्र के महुअर गांव निवासी संदीप सिंह उर्फ बाबा आज पुलिस के रिकार्ड में एक लाख का इनामी बदमाश है। मऊ के मोहम्मदाबाद के पूर्व ब्लाक प्रमुख अजीत सिंह की विगत दिनों प्रदेश की राजधानी लखनऊ में गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस हत्याकांड के तार अंडरवल्र्ड से जुड़ रहे हैं। आजमगढ़ के माफिया डान ध्रुव सिंह कुंटू, अखंड प्रताप सिंह और जौनपुर के बाहुबली पूर्व सांसद धनंजय सिंह का नाम हत्याकांड से जुड़ रहा है। पुलिस का दावा है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुख्यात माफिया सुनील भाटी ने अजीत सिंह की हत्या की सुपारी ली थी। संदीप सिंह उर्फ बाबा सुनील राठी गिरोह का ही शार्प शूटर बताया जा रहा है। पुलिस ने संदीप को अंबेडकर नगर से गिरफ्तार किया है और शीघ्र ही इस मामले में बड़ा खुलासा कर सकती है।

कौन है सुनील राठी, संदीप बाबा से क्या है कनेक्शन

सुनील राठी को पश्चिमी उत्तर प्रदेश का कुख्यात सुपारी किलर कहा जाता है। जरायम की दुनियां में सुनील राठी काफी चर्चित नाम है। कहा जाता है कि सुनील राठी ने जिसकी सुपारी ली वह कभी बच नहीं पाया। चंदौली का संदीप बाबा इसी सुनील राठी गिरोह के जुड़ा बताया जाता है। हालांकि संदीप के नाम जिले में कोई गंभीर आपराधिक मामला दर्ज नहीं है। यहां बलुआ और अन्य थानों में उसके खिलाफ रंगदारी के मामले दर्ज हैं। इसके अतिरिक्त जौनपुर, सोनभद्र, मऊ, वाराणसी और आजमगढ़ में भी उसके खिलाफ रंगदारी सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज हैं। संदीप का नाम चंदौली में इसलिए भी चर्चा में नहीं आया क्योंकि उसने अधिकतर वारदात जिले के बाहर अंजाम दिए हैं। जबकि संदीप ने पूर्व ब्लाक प्रमुख अजीत सिंह की हत्या अलीगढ़ के राजेश तोमर और अन्य शूटरों के साथ मिलकर के की। राजेश तोमर अजीत सिंह की गोली से घायल हो गया था। बताया जा रहा है कि संदीप ने पुलिस को कई अहम जानकारियां दी हैं।

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!