fbpx
weatherचंदौली

Chandauli Weather : गर्मी ने तोड़ा 44 सालों का रिकार्ड, 47 डिग्री पहुंचा पारा, दो दिन बाद राहत के आसार

धूप की तल्खी के साथ लोगों को झुलसा रही हीटवेव, रातें भी गर्म बंगाल की खाड़ी से चलेगी नम पुरवा हवा से गर्मी से मिलेगी राहत एक जून से धीरे-धीरे कम होने लगेगा लू का प्रकोप, नीचे आएगा पारा

चंदौली, मौसम, गर्मी ने तोड़ा रिकार्ड
  • धूप की तल्खी के साथ लोगों को झुलसा रही हीटवेव, रातें भी गर्म बंगाल की खाड़ी से चलेगी नम पुरवा हवा से गर्मी से मिलेगी राहत एक जून से धीरे-धीरे कम होने लगेगा लू का प्रकोप, नीचे आएगा पारा
  • धूप की तल्खी के साथ लोगों को झुलसा रही हीटवेव, रातें भी गर्म
  • बंगाल की खाड़ी से चलेगी नम पुरवा हवा से गर्मी से मिलेगी राहत
  • एक जून से धीरे-धीरे कम होने लगेगा लू का प्रकोप, नीचे आएगा पारा

 

चंदौली। मई की विदाई के वक्त गर्मी ने 44 सालों का रिकार्ड तोड़ दिया। पारा चढ़ते हुए 47 डिग्री को पार कर गया। तीखी धूप के साथ हीट वेव भी लोगों को झुलसा रही है। मौसम विशेषज्ञों की मानें तो दो दिन बाद मौसम में थोड़ा बदलाव हो सकता है। बंगाल की खाड़ी से चलने वाली नम पुरवा हवा भीषण गर्मी से राहत दिलाएगी। वहीं एक जून से लू का प्रकोप कम होने से साथ ही तापमान में भी गिरावट आ सकती है।

 

इस समय नौतपा चल रहा। नौतपा यानी नौ दिनों तक सूरज की किरणे सीधे धरती पर पड़ती हैं। आसमान से बरस रही आग से धरती भी तप रही है। चंदौली में भी गर्मी इस समय चरम पर पहुंच चुकी है। दिन के साथ ही वार्म नाइट के चलते लोगों को रात में भी चैन नहीं मिल रहा। मंगलवार को तापमान ने पिछले 44 सालों के रिकार्ड ध्वस्त कर दिए। 1980 में मई में वाराणसी समेत आसपास के इलाके के तापमान 46 डिग्री के आसपास था। हालांकि इस बार वह रिकार्ड भी टूट गया और पारा 47 डिग्री को पार कर गया। राज्य कृषि मौसम केंद्र के प्रभारी अतुल कुमार सिंह के अनुसार 30 मई से बंगाल की खाड़ी से चलने वाली नम पुरवा हवा कई इलाकों में बारिश करा सकती है। इसकी वजह से लू का प्रकोप एक जून से धीरे-धीरे कम होने लगेगा। वहीं तापमान में भी गिरावट आ सकती है। इससे गर्मी से लोगों को थोड़ी राहत मिल सकती है।

 

 

Back to top button
error: Content is protected !!