fbpx
चंदौलीप्रशासन एवं पुलिसराज्य/जिला

बर्ड फ्लू को लेकर चंदौली प्रशासन अलर्ट, डीएम ने लिया बड़ा फैसला

 

चंदौली। बर्ड फ्लू के खतरे को देखते हुए जिला प्रशासन अलर्ट हो गया है। सतर्कता बढ़ा दी गई है। डीएम संजीव सिंह ने अहम फैसला लेते हुए दूसरे जनपद से पक्षियों को लाने पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है। पुलिस को निगरानी की जिम्मेदारी सौंपी गई है। जबकि टास्क फोर्स टीमें ब्लाक स्तर पर निगरानी कर रही हैं। इस बीच पशुपालन विभाग की ओर से पक्षियों का 105 सीरम जांच के लिए भोपाल लैब भेजा गया है।
कोरोना वायरस का खौफ अभी कम भी नहीं हुआ था कि तेजी से बढ़ रहे बर्ड फ्लू के खतरे ने सरकार को चिंतित कर दिया है। शासन स्तर से जिलों को अलर्ट कर दिया गया है। चंदौली की बात करें तो यहां अभी तक बर्ड फ्लू का कोई मामला सामने नहीं आया है लेकिन गैर जनपद से पक्षियों को लाने पर पाबंदी लगा दी गई है। डीएम ने इसको लेकर पुलिस व पशुपालन विभाग को निर्देश जारी कर दिए हैं। फिलहाल कोई भी व्यक्ति दूसरे जिले से पक्षियों को लेकर जिले में प्रवेश नहीं कर सकता। पुलिस जिले की सीमाओं पर पैनी नजर रखेगी। पशुपालन विभाग भी अपने स्तर से बर्ड फ्लू के खतरे से निबटने की तैयारी में जुटा है। मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. एसपी पांडेय ने ब्लाक स्तर पर टास्क फोर्स का गठन कर दिया है। जिले में नौ टीमें निगरानी कर रही हैं। उन्हें पोल्ट्री फार्म, तालाबों व पोखरों पर नजर रखने को कहा गया है। पक्षियों के मौत की सूचना तत्काल मुख्यालय को देनी होगी। वहीं पक्षियों का सीरम लेकर जांच के लिए भोपाल लैब भेजा जा रहा है। वहीं जगह-जगह चूना और ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव भी कराया जा रहा है। खासतौर से पोल्ट्री फार्मों की जांच की जा रही है। पक्षियों की मौत पर सूचना देने में आनाकानी करने पर पोल्ट्री फार्म संचालकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की हिदायत दी गई है।

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!