fbpx
क्राइममऊ

नकली अंगूठा बनाकर उड़ा दिए 15 लाख, खरीदी बुलेट और कार

मऊ। ग्राहक सेवा केंद्र में पैसा जमा कर रहे हैं तो संचालक को लेकर एक दफा तस्दीक अवश्य कर लें। कहीं ऐसा न हो कि आप की गाढ़ी कमाई डूब जाए। मऊ जिले के घोसी थाना क्षेत्र में खाते से रुपये चोरी का ऐसा ही एक हैरतअंगेज मामला सामने आया है। ग्राहक सेवा केंद्र संचालक ने ग्राहक के अंगूठे का क्लोन बनाकर उसके बैंक खाते से 15 लाख रुपये गायब कर दिए। यही नहीं अन्य उपभोक्ताओं की गाढ़ी कमाई के भी 30 लाख रुपये धोखाधड़़ी से चुरा लिए। फ्राड के पैसे से अपने महंगे शौक पूरे किए। बुलेट, लग्जरी कार और अन्य कीमती सामान खरीदे। लेकिन आरोपित अब सलाखों के पीछे पहुंच गया है। पुलिस ने शातिर सीएसपी संचालक को गिरफ्तार कर फ्राड के पैसे से खरीदी गयी हुंडई कार सहित लगभग 11 लाख रुपये मूल्य के कीमती सामान बरामद किए हैं।

अंगूठे के क्लोन से निकाले रुपये


पुलिस अधीक्षक मऊ सुशील घुले ने बताया कि प्रवीण कुमार यादव पुत्र राम अवध यादव निवासी मिश्रौली थाना घोसी सउदी अरब में नौकरी करते हैं। उन्होंने अपने तकरीबन 14 लाख 83 हजार रुपये एसबीआई नदवल शाखा में जमा किए थे। गांव का ही व्यक्ति बुद्धिराम यादव ग्राहक सेवा केंद्र चलाता है। उसने बैंक कर्मचारियों की मिलीभगत से प्रवीण कुमार के अंगूठे का क्लोन बनाकर ई-पेमेंट के माध्यम से आधार से अंगूठा लगाकर उनके खाते से कई बार में 14 लाख 83 हजार रुपये निकाल लिए। प्रवीण सउदी अरब में रहते थे और उन्होंने बैंक में जो मोबाइल नंबर दर्ज कराया था वह भारत का था। ऐसे में उन्हें रुपये निकलने की जानकारी नहीं हो पा रही थी। आरोपित भी यह बात अच्छे से जानता था। बहरहाल बाद में प्रवीण को जब खाते से इतनी बड़ी रकम के निकलने की जानकारी हुई तो उन्होंने घोसी थाने में शिकायत दर्ज कराई और शाखा प्रबंधक को भी आरोपित बनाया।

30 लाख रुपये की धोखाधड़ी

पुलिस जांच पड़ताल में जुट गई। बहरहाल पुलिस ने आरोपित बुद्धीराम यादव पुत्र पतिराम यादव को एक लैपटाप, चार थंब स्कैनर मशीन, एक रजिस्टर, एक प्रिन्टर, 42 नए पासबुक, 7 पुराने पासबुक, 50 नये एटीएम मय बन्द लिफाफा, एक स्वैप मशीन, चार आधार कार्ड, एक मोबाइल, पांच मुहर, एक हुंडई आई 20 कार, के साथ मझवारा मोड़ से गिरफ्तार कर लिया। आरोपित ने पूछताछ में बताया कि उसे फ्राड के रुपये से एक बुलेट मोटर साइकिल और हुंडई आई 20 कार खरीदने के साथ ही और काफी रुपये अपनी शान-ओ-शौकत पर खर्च किए हैं। आवेदक के 14 लाख 83 हजार 889 रुपये के अतिरिक्त 08 लाख चेक से फ्राड व अन्य लोगों के खाते से लगभग 06 लाख 50 हजार रुपये की धोखाधड़ी के तथ्य प्रकाश में आएं हैं। इस प्रकार कुल लगभग 30 लाख रुपये की धोखाधड़ी सामने आई। पुलिस के धनराशि बढ़ भी सकती है। आरोपित के विभिन्न बैंक के खातों की जांच कर उसको फ्रीज करने की कार्रवाई की जा रही है। साथ ही एटीएम जो बैंक द्वारा कस्टमर के पते पर भेजा जाता है वह कैसे सीएसपी संचालक तक पहुंचा इसकी भी जांच पुलिस कर रही है।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button