fbpx
ख़बरेंचंदौली

Chandauli News : कागजों में तो जीत गए, न्याय मिलना अभी बाकी है, साहब सुन नहीं रहे

चंदौली। सदर तहसील के प्रतापपुर गांव में अतिक्रमणकारियों की ओर से गांव के खलिहान की भूमि व निजी भूमिधरी पर कब्जा कर निर्माण करा लिया गया है। पीड़ित पक्ष के प्रार्थना पत्र पर सुनवाई करते हुए तहसीलदार न्यायालय और हाईकोर्ट की ओर से बेदखली का आदेश भी पारित हो चुका है। इसके बावजूद अतिक्रमणकारी आज तक उक्त जमीन पर जमे हुए हैं। पीड़ित कैलाशनाथ श्रीवास्तव का आरोप है कि लेखपाल ने घूस लेकर अवैध कब्जा हटने की झूठी रिपोर्ट लगा दी। वहीं लेखपाल की जांच करने गए नायब तहसीलदार भी रिश्वत ले ली। इसके चलते लेखपाल व अतिक्रमणकारियों के खिलाफ आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई।

 

कैलाशनाथ ने बताया कि गांव में उनकी भूमिधरी की जमीन पर जवाहिर पुत्र बद्री ने अवैध कब्जा कर घऱ बना लिया। वहीं उसके समीप स्थित सार्वजनिक जमीन पर भी अतिक्रमण कर लिया। उक्त भूमि राजस्व अभिलेखों में खलिहान के नाम से दर्ज है। तहसीलदार न्यायालय की ओर से अतिक्रमणकारी के खिलाफ बेदखली का आदेश पारित किया गया। वहीं हाईकोर्ट ने भी जमीन को अतिक्रमणमुक्त कराने का आदेश दिया था लेकिन हल्का लेखपाल ने अतिक्रमणकारियों से पैसे लेकर कब्जा हटने की झूठी रिपोर्ट लगा दी। लेखपाल के खिलाफ शिकायत की जांच करने नायब तहसीलदार पहुंचे। उन्होंने भी रिश्वत ले ली और लेखपाल व अतिक्रमणकारी के खिलाफ आज तक कोई कार्रवाई नहीं की। वहीं प्रार्थी को ही झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी दी जा रही है। उन्होंने बताया कि मामले को लेकर एसडीएम व डीएम स्तर पर भी शिकायत की जा चुकी है, लेकिन मामला उच्चाधिकारियों के संज्ञान में आने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हुई। हल्का लेखपाल 2020 से ही उसी हल्के में जमा हुआ है। उन्होंने प्रशासन से निष्पक्ष कार्रवाई की मांग की है।

Back to top button
error: Content is protected !!