fbpx
प्रशासन एवं पुलिसराज्य/जिलावाराणसी

ये टीम कर रही तहकीकात, जल्द पता चल जाएगा क्षतिग्रस्त सड़कों का गुनहगार कौन

वाराणसी। विकास का रास्ता सड़कों से होकर गुजरता है। इस लिहाज से क्षतिग्रस्त सड़कें अवरोधक का काम कर रही हैं। सड़कें बनते ही टूट जा रही हैं। इसका खामियाजा आम जनता के साथ सरकार को भुगतना पड़ रहा है। खजाने का बड़ा हिस्सा खड़कों की मरम्मत पर खर्च करना पड़ रहा है। अब शासन ने यह पता लगाने का फैसला किया है कि सड़कों के खराब होने के पीछे असल दोषी कौन है। सीएम के निर्देश पर आयुक्त वाराणसी मंडल दीपक अग्रवाल ने टीम गठित कर दी है वाराणसी और चंदौली की कुछ प्रमुख सड़कों की जांच कर यह पता लगाएगी कि सड़कें ओवरलोडिंग के चलते टूट रही हैं या खराब गुणवत्ता इसका कारण है।
सूत्रों की माने तो कमिश्नर ने मजिस्ट्रेट, पीडब्लूडी और परिवहन विभाग की टीम गठित कर दी है। पिछले दिनों वाराणसी दौरे पर आए सीएम योगी आदित्याथ ने सड़कों के क्षतिग्रस्त होने की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए आयुक्त को निर्देश दिए थे। इसके बाद कमिश्नर ने टीम गठित कर जांच कराने का फैसला किया है। जांच टीम को एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट देने को कहा गया है। वैसे कमिश्नर तकरीबन साफ कर चुके हैं कि ओवरलोडिंग के चलते ही सड़कें खराब हो रही हैं। तमाम प्रयासों के बाद भी ओवरलोड वाहनों के संचालन पर रोक नहीं लग पा रही है। कुछ भ्रष्ट एआरटीओ, पुलिस और सफेदपोशों के संरक्षण में ओवरलोड वाहन धड़ल्ले से दौड़ रहे हैं। सूत्रों का कहना है कि जांच टीम की रिपोर्ट शासन को भी भेजी जाएगी। खामी मिलने पर कार्रवाई भी तय मानी जा रही है।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button