ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

ठंड से ठिठुर रहे बेजुबान, चंदौली की इस गोशाला में नाकाफी इंतजाम

रिपोर्टः सरताज खान

चंदौली। पिछले कुछ दिनों से सर्दी सितम ढा रही है। जनमानस के साथ पशु-पक्षी भी बेहाल हैं। गोशालाओं में पशुओं को ठंड से बचाने की आधी-अधूरी तैयारी गोवंश के लिए काल बन रही है। धानापुर क्षेत्र के नोनारी स्थित गोशाला में पशु ठंड से ठिठुर रहे हैं। आलम यह कि टीनशेडों को तिरपाल से ढका तो गया है लेकिन पशुओं की संख्या के हिसाब से व्यवस्था नाकाफी साबित हो रही है। कुछ गोवंश खुले आसमान के नीचे ही सर्द हवाओं को झेल रहे हैं।
मुख्यमंत्री की मंशा है कि सभी गोशालाओं में गोवंश के लिए कोट (जूट से बनी झूल) पहनाई जाए। यही नहीं जिले के विभागीय अधिकारी जब दौरा करते हैं तो पशुओं को हरा चारा के साथ और भी कई पोषक तत्व दिया जाता है। जबकि अभी वर्तमान में उन्हें सूखा चारा खा कर ही गुजर करना पड़ रहा है। नतीजा यह है कि गोशालाओं में इस समय न तो गोवंश को पहनाने के लिए कोट हैं और न ही पर्याप्त मात्रा में ठंड से बचाव का कोई इंतजाम। ऐसे में गोवंश सर्दी से सिकुड़ रहे हैं। अधिकारियों का तो दावा है कि पशुओं को ठंड से बचाने के सारे इंतजाम किए गए हैं लेकिन वास्तविकता कुछ और ही है। नोनारी तो महज बानगी है अधिकांश गोशालाओं की स्थिति बदहाल ही है।

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!