fbpx
क्राइमचंदौलीराज्य/जिला

महज सिगरेट के लिए जिगरी दोस्तों ने सिद्धार्थ को मार डाला

चंदौली। सदर कोतवाली क्षेत्र के बिछियां गांव निवासी 17 वर्षीय किशोर सिद्धार्थ उर्फ वीरु की हत्या में नया मोड़ आ गया है। लोग फिरौती की रकम नहीं देने को हत्या की वजह मान रहे थे। लेकिन पुलिस ने इसे सिरे से नकार दिया है। एसपी हेमंत कुटियाल ने बताया कि सिद्धार्थ की हत्या उसी के जिगरी दोस्तों अमित उर्फ गोलू और कन्हैया ने कर दी और शव को गोलू के अहाते में दफन कर दिया। पुलिस को उलझाने और खुद के बचाव में इसे अपहरण का रूप दे दिया। पुलिस ने आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।
बकौल एसपी विगत मंगलवार को सिद्धार्थ घर से अचानक गायब हुआ। दो दिन बाद पुलिस को सूचना मिली कि घरवालों से फिरौती की मांग की जा रही है। जांच में यह बात सामने आई है कि सिद्धार्थ जायसवाल की हत्या उसी के दोस्तों गोकुलपुर अमड़ा निवासी गोलू और झांसी गांव के कन्हैया खरवार ने की है। घटना वाले दिन तीनों गोलू के घर में शराब पी रहे थे। गोलू ने सिद्धार्थ को सिगरेट लाने को कहा। उसने मना कर दिया तो झगड़ा हुआ। इसी विवाद और गुस्से में दोनों ने सिद्धार्थ की हत्या कर दी और अपने ही घर के अहाते में शव को गाड़ दिया। हाथापाई के दौरान सिद्धार्थ ने अमित को अपने दांत से काटा भी था। पुलिस को दूसरी तरफ उलझाने के लिए आरोपितों ने दो दिन बाद मृतक का मोबाइल आन किया और उसके भाई को फोन कर रुपये की मांग की। एसपी ने देर रात आरोपितों को पत्रकारों के समक्ष प्रस्तुत किया। इस दौरान एएसपी प्रेमचंद भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!