fbpx
ख़बरेंचंदौलीराज्य/जिला

आरोपों पर खुलकर बोलीं सकलडीहा कोतवाल, पति विधायक तो मेरा क्या दोष

चंदौली। सकलडीहा कोतवाल वंदना सिंह के पति नीलरतन सिंह अपना दल से शिवपुर से विधायक हैं। उनपर सत्ता पक्ष का संरक्षण प्राप्त होने का आरोप लग रहा है। सकलडीहा में भू माफियाओं की अप्रत्यक्ष रूप से मदद के भी आरोप लगे हैं। व्यापारी और भाजपा के क्षेत्रीय नेता उनके खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं। एक के बाद एक लग रहे आरोपों से महिला इंस्पेक्टर वंदना सिंह आहत हैं। पूर्वांचल टाइम्स से विशेष बातचीत में उन्होंने अपना पक्ष रखा। सभी आरोपों को सिरे से खारिज किया। यह भी कहा कि पति विधायक हैं तो इसमें उनका कोई दोष नहीं। बल्कि यह तो उनके लिए एक उपलब्धि है। इसपर उन्हें गर्व है।

कोतवाल वंदना सिंह साफगोई से कहती हैं कि जमीन संबंधी विवाद राजस्व विभाग की जिम्मेदारी है। इसमें पुलिस का कोई हस्तक्षेप नहीं होता। बावजूद इसके कानून व्यवस्था के मद्देनजर सकलडीहा बाजार प्रकारण में पुलिस ने बखूबी अपना काम किया। आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। अब आरोप लग रहे हैं कि धाराएं हल्की लगी हैं। जो पिटाई का आरोप लगा रहे हैं उनको बाहर से किसी तरह की चोट नहीं नजर आ रही थी। फिर भी कहा गया कि मेडिकल कराइए यदि चिकित्सक किसी चोट की पुष्टि करते हैं तो धाराएं बढ़ा दी जाएंगी।

यह भी पढ़ेंः भू-माफियाओं के खिलाफ एक्शन में आई पुलिस, चार के विरुद्ध मुकदमा

रही बात पति के विधायक होने की तो इसमें मेरा कोई दोष नहीं। पति को उनके पद से हटा तो नहीं सकती। मैं 20 वर्षों से अपने पद पर हूं पति तीन वर्ष से विधायक हैं। उनका काम अलग हैं, जिम्मेदारियां अलग हैं। मेरा काम मेरी जिम्मेदारियां अलग हैं। पति से राजनीतिक द्वेष रखने वाले बेवजह मुझे इसमें घसीट रहे हैं। मेरे लिए सकलडीहा में रहना महत्वपूर्ण नहीं है। नौकरी है जहां स्थानांतरण हो जाएगा वहां काम करूंगी। जिसे हटवाना हो हटवा सकता है।

On The Spot

खबरों के लिए केवल पूर्वांचल टाइम्स, अफवाहों के लिए कोई भी। हम पुष्ट खबरों को आप तक पहुंचाने के लिए संकल्पिक हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button